Uttar Pradesh police : इंस्पेक्टर व सिपाही पर महिला दारोगा ने लगाया गंभीर आरोप

Spread the love

Uttar Pradesh police : पीडि़ता ने वीडियो वायरल कर इस्तीफा देने की कही बात
-डीसीपी ने एसीपी कृष्णानगर को सौंपी मामले की जांच

लखनऊ। बंथरा कोतवाली में तैनात रही महिला दारोगा ने वीडियो वायरल कर इंस्पेक्टर और सिपाही पर कई गंभीर आरोप लगाये हैं। आरोप है कि वह अपने क्षेत्र में हो रहे अवैध खनन को रुकवाने पहुंची थी।

इसी दौरान सिपाही व इंस्पेक्टर ने वहां से बिना कार्रवाई के लौट आने को कहा। आरोप है कि उन्हें धमकी और अपशब्द भी कहे गये। वायरल वीडियो में उन्होंने इस्तीफा देने की बात भी कही है। डीसीपी मध्य ने मामले की जांच एसीपी कृष्णानगर को सौंपी है।

बंथरा कोतवाली में तैनात रही महिला दारोगा हसीना खातून का एक वीडियो रविवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। इसमें हसीना खातून ने कहा कि वह बंथरा में हल्का चार की प्रभारी हैं। एक जनवरी की सुबह 11 बजे उनके क्षेत्र में अवैध खनन की सूचना मिली थी।

वह पुलिस टीम के साथ नरेरा गांव पहुंची। वहां खनन कर रहे लोगों से अनुमति पत्र दिखाने को कहा। उन लोगों ने अनुमति पत्र न दिखाकर इंस्पेक्टर के खास सिपाही अवध किशोर को फोन कर दिया।

अवध किशोर ने उनसे बिना कार्रवाई के लौट आने को कहा। मना करने पर इंस्पेक्टर अजय प्रताप सिंह ने फोन पर तुरन्त थाने पहुंचने को कहा। आरोप है कि इंस्पेक्टर ने उनसे नाराजगी जताते हुए अवैध खनन रोकने पहुंचने का विरोध किया।

आरोप है कि इंस्पेक्टर ने अपशब्द भी कहे। हसीना ने वायरल वीडियो में प्रताडऩा से तंग आकर इस्तीफा देने की बात भी कही है। डीसीपी मध्य अपर्णा गौतम ने बताया कि महिला दरोगा के आरोपों पर जांच एसीपी पंकज श्रीवास्तव को सौंप दी गई है।

यह बात भी सामने आयी है कि वरिष्ठ अधिकारियों व इंस्पेक्टर ने थाने में तैनात सभी दरोगा को चुनाव से जुड़े कई काम दिये थे। हसीना का काम पूरा नहीं हुआ था। इस पर थाने में हुई बैठक में उनसे सवाल-जवाब किया गया था। उनके वायरल वीडियो की जांच की जा रही है।

Uttar Pradesh police : तबादला होने पर ले ली छुट्टी

पुलिस के मुताबिक एसआई हसीना कानपुर में रहती है। वह रोजाना वहां से थाने पर ड्यूटी करने आती है। आने-जाने में ही ज्यादा समय लग जाने के कारण उनके कई मामले लम्बित हो गये थे।

इंस्पेक्टर कई दिनों से उन्हें काम समय पर पूरा करने के लिये कह रहे थे। शनिवार को मध्य जोन में तैनात कई सब इंस्पेक्टर का तबादला हुआ। इसमें हसीना को बंथरा कोतवाली से सरोजनीनगर कोतवाली तबादला कर दिया गया।

लेकिन वह नई जगह जाने की बजाये छुट्टी पर चली गई। इंस्पेक्टर अजय प्रताप सिंह ने बताया कि हसीना जिसे अवैध खनन बता रही हैं, उसका अनुमति पत्र सम्बन्धित व्यक्ति के पास है। इसे अफसरों को भेज दिया गया है।