लखनऊ विधान सभा के सामने युवक ने खुद को लगाई “आग”

Spread the love

लखनऊराजधानी के विधान भवन के सामने कन्नौज से पहुंचे एक युवक ने खुद पर पेट्रोल उड़ेलकर खुद को आग के हवाले कर दिया। देखते ही देखते युवक आग की लपटों घिर गया। वहीं मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने आनन-फानन कंबल और जैकेट की मदद से किसी तरह आग पर काबू पाया। इसके बाद युवक को गंभीर अवस्था में सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है

मूलरूप से कन्नौज के इंदरगढ़ मुंदारा निवासी उमाशंकर पुत्र रामसरन सोमवार को रोडवेज बस से लखनऊ पहुंचा। चारबाग बस स्टेशन पर उतरने के बाद उमाशंकर पैदल ही विधान भवन के सामने करीब 11:30 बजे पहुंचा और जब तक पुलिस कर्मी कुछ समझ पाते उसने खुद को आग लगा ली।

मौजूद पुलिस कर्मियों ने आनन-फानन कंबल और जैकेट की मदद से आग पर काबू पाते हुए उमाशंकर को सिविल अस्पताल पहुंचाया। इंस्पेक्टर हजरतगंज श्यामबाबू शुक्ल के मुताबिक उमाशंकर ने विधानभवन के सामने पहुंचने से पहले ही खुद पर पेट्रोल उड़ेल रखा था।

विधानभवन के सामने पहुंचकर आग लगा ली। उमाशंकर के जेब से एक बोतल मिला है जिसमें पेट्रोल था। आग से उमाशंकर करीब 25 फीसद झुलस गया है। विधान भवन के बाहर लगे सीसी कैमरे में पूरा मंजर कैद हो गया।

लेखपाल पर लगाया प्रताडऩा का आरोप

हजरतगंज पुलिस मुताबिक पूछताछ में सामने आया कि उमाशंकर की जमीन का विवाद चल रहा है जिसमें लेखपाल को रिपोर्ट लगानी है लेकिन लेखपाल लगातार टालमटोल कर रहा है। पीडि़त ने लेखपाल की शिकायत कई उच्चाधिकारियों से की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।

इस पर उसने आत्मदाह करने का निर्णय लिया। पुलिस ने बताया कि कन्नौज के प्रशासन व पुलिस अधिकारियों से संपर्क कर पूरे मामले की जांच की जा रही है। साथ ही यह पता लगाया जा रहा है कि उमाशंकर के साथ कोई और भी व्यक्ति लखनऊ आया था या नहीं।

रात में बंद हो जाता है विधान भवन का मार्ग

विधानभवन के सामने आये दिन कोई न कोई आत्मदाह के लिए पहुंच जाता है। बीते वर्ष महिला समेत दो लोगों की मौत भी हो चुकी है। मामले की गंभीरता को देखते हुए आत्मदाह से निपटने के लिए बकायदा पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है।

इतना ही नहीं रात करीब 10 बजे के बाद विधानभवन का मुख्य मार्ग पूरी तरह बंद कर दिया जाता है। बावजूद इसके लोग आत्मदाह के लिए पहुंच जा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.