Uttar Pradesh crime: इंजीनियर समेत तीन लोगों ने मौत को गले लगाया

इंजीनियर समेत तीन लोगों ने मौत को गले लगाया इंजीनियर ने अपनी मौत का जिम्मेदार एक अफसर को ठहराया इन्दिरानगर,पीजीआई व हुसनैगंज थाना क्षेत्र का मामला
Uttar Pradesh crime:

Crime Lucknow के अलग-अलग थाना क्षेत्र में तीन लोगों ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। Lucknow इन्दिरानगर में विभागीय प्रताडऩा से तंग आकर जल विभाग के इंजीनियर ने फंदे से लटकर जान दे दी। पुलिस को मौके से सुसाइड नोट बरामद हुआ है। पीजीआई में शटरिंग कारीगर व हुसैनगंज में परचून दुकानदार ने आर्थिक तंगी से परेशान होकर आत्महत्या कर ली। मौके पर पहुंची पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज आगे की कार्रवाई कर रही है।

यह भी पढ़ेंUttar Pradesh crime :ईंट-पत्थर से कूचकर युवक की निर्मम हत्या,लगी थी हार-जीत की बाजी

इन्दिरानगर राम टिम्बर निवासी रामप्रकाश 54 वर्ष पुत्र वंशराज साहनी जलविभाग में इंजीनियर के पद पर तैनात थे। मंगलवार सुबह करीब 9 बजे घर के अन्दर कमरे में लगे पंखे में रस्सी का फंदा बनाकर फांसी लगा ली। आनन-फानन परिजन उन्हें डॉ.राम मनोहर लोहिया अस्पताल लेकर पहुंचे जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया है।

रामप्रकाश की पुत्री शालनी साहनी ने बताया कि विभागीय प्रताडऩा के चलते फांसी लगाने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी है। मृतक के एक पुत्र व दो पुत्री है। इंस्पेक्टर ने बताया कि मौके से सुसाइड नोट बरामद हुआ है। जिसमें टीई कमलेश सिंह को अपनी मौत का जिम्मेदार ठहराया है।

सुसाइड नोट में लिखा है कि कमलेश सिंह विभागीय कार्य को लेकर कई तरह से उन्हें प्रताडि़त करते थे। इस बावत उच्चाधिकारियों को कई बार अवगत कराया गया,लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। फिलहाल पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज आगे की कार्रवाई कर रही है।

शटरिंग कारीगर ने की आत्महत्या

पीजीआई थाना क्षेत्र में 18 वर्षीय युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या की ली। आत्महत्या का कारण आर्थिक तंगी बतायी जा रही है। पीजीआई बरौली खलीलाबाद निवासी विजय रावत के मुताबिक सोमवार बीती रात समय करीब 12.15 बजे उसका भाई जितेन्द्र उर्फ अनि उम्र करीब 18 वर्ष ने घर के कमरें की छत में लगी लोहे की राड में गमछे का फंदा बनाकर आत्महत्या कर ली है।

यह भी पढ़ें : क्या आपको पता है, तेज़ी से क्यों हो रहे हैं युवा ‘गंजा’, भूलकर भी ना करें यह गलतियां

मौके पर पहुंचे एसआई सुनील कुमार मौर्या ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने बताया कि मृतक अविवाहित था और शटरिंग का काम करता था।

परचून दुकानदार ने लगाई फांसी

हुसैनगंज छितवापुर निवासी शंकर लाल साहू के मुताबिक मंगलवार समय करीब 12 बजे वह अपने पुत्र सौरभ को जगाने के लिए गया तो दरवाजा अन्दर से बंद था। जिसके बाद दरवाजा तोड़कर देखा तो  सौरभ का शव कमरे में लगे पंखे में दुपट्टे के फंदे के सहारे लटक रहा था। एसआई रामसेवक ने बताया गया कि मृतक परचून की दुकान करता था। मृतक के दो पुत्री है। आत्महत्या का कारण आर्थिक तंगी बतायी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.