युवक ने गोमती नदी में कूदकर दी अपनी जान

Spread the love

कोरोना काल के दौरान लॉकडाउन के पीरियड में अच्छे अच्छे लोग डिप्रेशन का शिकार हुए हैं। डिप्रेशन जिसे हिंदी में (अवसाद) भी कहते हैं। एक युवक इसकी चपेट में आकर युवक ने गोमती में कूदकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली ।

लखनऊ। गोसाईंगंज के गौरिया कला गांव निवासी अनूप जायसवाल उम्र लगभग(30) वर्ष ने शुक्रवार की दोपहर गोमती नदी में कूदकर जान दे दी। पुल से गुजरने वाले राहगीरों ने कूदते हुए युवक को देखा।

शिनाख्त करवाई

राहगीरों ने पुलिस को इस घटना की सूचना दी। सूचना पाकर मौके पर पहुँची गोसाईंगंज पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए गोताखोरों को बुलवाया और गोताखोरों की मदद से गोमती नदी से शव बरामद कर लिया । पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर इसकी शिनाख्त करवाई।

पोस्टमार्टम के लिए भेजा

शिनाख्त में यह पता चला की यह लड़का गोसाईगंज के ही गोरिया कला गांव का निवासी है जिसका नाम अनूप जायसवाल है। तलाक के बाद शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम को भेज दिया।

इंस्पेक्टर गोसाईंगंज ब्रजेश सिंह के मुताबिक मृतक लॉक डाउन से अवसाद ग्रस्त था। जिसने गांव से कुछ दूरी पर गोमती नदी में छलांग लगा कर जान दे दी। गांव में सुसाइड नोट भी प्राप्त हुआ है

news24on

Leave a Reply

Your email address will not be published.