भाई की मौत का बदला लेने के लिए मारी थी डॉक्टर को गोली

Spread the love

दो सगे भाई गिरफ्तार, अन्य दो की तलाश जारी

लखनऊ । चिनहट थाना क्षेत्र में हर्षित हॉस्पिटल के मालिक डॉ. संदीप जायसवाल पर फायरिंग करने के मामले में पुलिस ने मंगलवार रात दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। दोनों आरोपियों की तलाश में पुलिस टीम दिल्ली गई थी, लेकिन दोनों वहां से फरार हो गए जिसके बाद टीम वापस लखनऊ आ गई। उधर, सर्विलांस सेल को जानकारी मिली कि दोनों आरोपी चोरी छुपे दिल्ली से लखनऊ में समर्पण के लिये आ रहे, जिसके बाद वह पुलिस के हत्थे चढ़ गये। फिलहाल घटना में शामिल दो हमलावर अभी भी फरार है, जिनकी तलाश में लगातार दबिश दी जा रही है।

इंस्पेक्टर चिनहट धनंजय पांडेय ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित आमिर चौधरी और राशिद यहां इंदिरानगर में रहकर इंटीरियर डिजाइनिंग का काम करते हैं। उन्होंने अपने भाई खालिद को बीते अप्रैल माह में डॉ. संदीप के सर्वोदय नगर स्थित हर्षित हॉस्पिटल में भर्ती कराया था।

खालिद और डॉ. संदीप दोनों अच्छे दोस्त भी थे। पूछताछ में दोनों हमलावर भाइयों ने बताया कि संदीप जायसवाल के हॉस्पिटल में इलाज के दौरान खालिद की काफी हालत बिगड़ गई थी। इसके बाद वह दोनों बीते दो मई की सुबह खालिद को डिस्चार्ज कराकर कानपुर रोड स्थित एक निजी अस्पताल ले गए, लेकिन वहां सात मई को खालिद की मौत हो गई।

इसके बाद आमिर और राशिद ने डॉ. संदीप पर आरोप लगाया कि उनके अस्पताल में खालिद को अच्छा इलाज नहीं मिला था और अस्पताल के कर्मचारियों ने भी उनकी देखभाल सही से नहीं की, जिसके कारण उनकी हालत बिगड़ गई थी।

बता दें कि बीते 25 मई की देर रात कार सवार हमलावरों ने डॉ. संदीप को गोली मारी थी। डॉ. सर्वोदयनगर स्थित अस्पताल से अपने घर लौट रहे थे। पुलिस की पड़ताल में अस्पताल में मरीज की मौत और उसके तीमारदारों द्वारा मारपीट किए जाने की रंजिश का मामला प्रकाश में आया था।

किराए पर लेकर आए थे घटना में इस्तेमाल कार

पुलिस आयुक्त पुर्वी कासिम आब्दी ने बताया कि दोनों आरोपी घटना में इस्तेमाल फ ॉर्चूनर को एक कार बाजार से किराए पर लेकर आए थे, जिसे बरामद कर लिया गया है।

इसके साथ ही हमलावरों के पास से वारदात में प्रयुक्त ईंट व 315 बोर का तमंचा और कारतूस भी कब्जे में लिया गया है। फिलहाल अब फरार अन्य दो आरोपियों की तलाश है, जिसे पुलिस जल्द ही गिरफ्तार करने का दावा कर रही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.