covid-19: ओमीक्रोन के खतरे को देखते हुए शहर में जनवरी तक धारा 144

Spread the love

लखनऊ। क्रिसमस, नए साल का जश्न, प्रवेश परीक्षाओं, त्यौहारों,धरना प्रदर्शनों के साथ ही कोविड (covid-19) के नए स्वरूप ओमीक्रोन के खतरे को देखते हुए प्रशासन ने एक बार फिर से शहर में धारा 144 को 5 जनवरी तक के लिए बढ़ा दिया है।

जेसीपी कानून एवं व्यवस्था पीयूष मोर्डिया ने मंगलवार को यह आदेश जारी किया।

स्वीमिंग पूल पूर्व की तरह रहेंगे प्रतिबंधित

जेसीपी पीयूष मोर्डिया ने बताया कि कोविड के नए वैरिएंट के चलते अतिरिक्त सतर्कता बरतने की जरूरत है।

मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह से पालन किया जाना आवश्यक है। इस बीच क्रिसमस और नए साल के साथ ही मांगलिक कार्यक्रम भी होंगे।

साथ ही प्रतियोगी परीक्षा और धरना प्रदर्शन भी प्रस्तावित है। ऐसे में पहले से प्रभावी धारा 144 को 5 जनवरी तक के लिए बढ़ाया गया है।

जेसीपी पीयूष मोर्डिया के मुताबिक क्रिसमस पर्व, 31 दिसंबर और नए साल पर पार्टी मनाने के दौरान कोविड प्रोटाकल का पालन करना जरूरी होगा।

इस दौरान विधानभवन और उसके आस पास एक किमी के दायरे में विशेष सतर्कता रहेगी। एक किमी की परिधि में इक्का, तांगा, अग्नेयास्त्र, ज्वलनशील पदार्थ लेकर चलना प्रतिबंधित रहेगा।

रात्रि दस से सुबह छह बजे तक किसी तरह की तेज आवाज पर भी पाबंदी रहेगी। स्वीमिंग पूल पूर्व की तरह प्रतिबंधित रहेंगे।

वहीं, इंटरनेट मीडिया पर साइबर क्राइम सेल की कड़ी नजर रहेगी। इंटरनेट मीडिया पर अफवाहे फैलाने वालों और आपत्तिजनक पोस्ट डालने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

 इनका करना होगा पालन

1- सरकारी दफ्तरों व विधानभवन के आसपास एक किमी के दायरे में ड्रोन से शूटिंग प्रतिबंधित रहेगी।
2- बिना अनुमति के पांच या उससे अधिक व्यक्ति जुलूस नहीं निकालेंगे।
3- सार्वजनिक स्थान पर पांच या इससे अधिक व्यक्ति एक साथ पर इक_ा नहीं होंगे।
4- धार्मिक स्थलों की दीवारों पर झण्डा या बैनर नहीं लगाए जाएगा।
5- खुले स्थान अथवा मकानों की छत पर ईंट, पत्थर या ज्वलनशील पदार्थ जमा करने वालों पर कार्रवाई होगी।
6-शादी समारोह व अन्य आयोजनों में व्यक्तियों की उपस्थिति बंद स्थानों पर एक समय में अधिकतम 100 की कोविड प्रोटोकाल के तहत होगी।
7-कन्टेनमेंट जोन को छोड़कर शेष स्थानों पर 50 फीसद क्षमता के साथ रेस्टोरेंट, मल्टीप्लेक्स सिनेमा हाल और जिम खुलेंगे।