मम्‍मी-पापा अपना ख्‍याल रखना..लेडी IPS ने मेरा कर‍ियर खराब कर दिया, रेल ट्रैक पर दो टुकड़ों में मिला बेटा

Spread the love

लखनऊ के हसनगंज थाना क्षेत्र की रैदास मंदिर क्रासिंग पर सचिवालय के संविदाकर्मी ने ट्रेन से कटकर आत्‍महत्‍या की। मृतक का शव दो टुकड़ों में बरामद हुआ। सुसाइड नोट में ल‍िखा- लेडी आइपीएस पर देह व्यापार में फंसाने का आरोप।

 

उत्तर प्रदेश की राजधानी में बुधवार को दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है। यहां सचिवालय के एक संविदाकर्मी विशाल ने सुसाइड नोट में लेडी आइपीएस पर गंभीर आरोप लगाकर ट्रेन से कटकर आत्‍महत्‍या कर ली। ट्रेन की पटरी पर युवक का शव दो टुकड़ों में बरामद हुआ। मृतक ने सुसाइड नोट में लिखा- मैं बेकसूर था…मुझे देह व्‍यापार के रैकेट में 2017 बैच आइपीएस प्राची सिंह ने फंसाया है।  इनको कड़ी से कड़ी सजा होनी चाहिए। जिससे ये निर्दोष लोगों को जेल न भेजें।  अपने पद का गलत इस्‍तेमाल न करें। अपने प्रोमोशन के चक्‍कर में कई निर्दोषों को सजा ने दें।

मेरी मौत की जिम्‍मेदार लेडी आइपीएस: दरअसल, हादसा हसनगंज थाना क्षेत्र की रैदास मंदिर क्रासिंग पर हुआ। आगे सुसाइड नोट में लिखा था-  ”मैं अपने होशो हवास में आत्‍महत्‍या कर रहा हूं। जिसकी ज‍िम्‍मेदार प्राची स‍िंह आइपीएस है। जिन्‍होंने मेरा कर‍ियर खराब कर द‍िया है। जिसकी वजह से समाज में मैं नजरें उठाकर नहीं चल पा रहा हूं..मुझे घुटन सी हो रही है। मेरे परिवार से मैं नजरे नहीं म‍िला पा रहा हूं।”

सचिवालय में कंप्‍यूटर ऑपरेटर था मृत‍क: चांदगंज छपरतला न‍िवासी विशाल (26) पुत्र अर्जुन सचिवालय में आइएएस रोशन जैकब के यहां कंप्‍यूटर ऑपरेटर था। वो वहां तीन साल से काम कर रहा था। विशाल के पिता अर्जुन ने भी बताया कि गत 13 फरवरी को विशाल इंदिरानगर गया था। वहां वो एक ठेले पर चाऊमीन खा रहा था, तभी पुलिस वहां सड़क किनारे मसाज पार्लर पर छापेमारी की। उनका आरोप था कि पुलिस विशाल को भी पकड़कर ले गई। उसे 20 दिन तक जेल में रखा गया, 21 फरवरी को वो जेल से बाहर आया। तब से वो काफी डिप्रेशन में था।

लेडी आइपीएस ने कहा, मैंने अपनी ड्यूटी की थी: एडीसीपी उत्तरी आइपीएस प्राची सिंह के मुताबि‍क, 12 फरवरी को इंदिरानगर इलाके में छह स्पा पार्लर पर छापा मारा गया था। इस दौरान कई लोगों को पुलिस टीम ने पकड़ा था। इसमें विशाल भी शामिल थे। विशाल जेल से छूटे होंगे। मुझे नहीं पता कि विशाल ने आत्महत्या क्यों की। मैंने अपनी ड्यूटी की थी। मेरे निर्देशन में छापेमारी हुई थी। विशाल की मौत का मुझे दुख है। मुझपर लगाए गए आरोप निराधार हैं।

13 फरवरी को  छह सैलून और स्पा सेंटर में हुई थी छापेमारी: बता दें, 13 फरवरी की शाम इंदिरानगर और गाजीपुर क्षेत्र के पॉश इलाके में संचालित छह सैलून और स्पा सेंटर में छापेमारी की गई थी। छापेमारी के दौरान राजफाश हुआ था कि सैलून और स्पा सेंटरों की आड़ में देह व्यापार का धंधा चल रहा था। पुलिस ने छापेमारी कर कर्मचारियों समेत आपत्तिजनक स्थिति में मिले 15 युवक और 20 युवतियों को गिरफ्तार किया था।

यहां हुई थी छापेमारी

गाजीपुर क्षेत्र

  • अमाया हेवन, सैलून एंड स्पा सेंटर (ईश्वरपुरी सेक्टर 12)
  • जस्ट हेवन सैलून एंड स्पा सेंटर (ओम प्लाजा इंदिरानगर सेक्टर 19)
  • द माउंटेन सैलून एंड स्पा सेंटर (ओम प्लाजा इंदिरानगर सेक्टर 19)
  • इंदिरानगर क्षेत्र
    1. द स्टाइलिश सैलून एंड स्पा सेंटर (इंदिरानगर खुर्रमनगर)
    2. पर्पल आर्चिड सैलून एंड स्पा सेंटर (इंदिरानगर शिवाजीपुरम)
    3. ब्यूटी एंड माइंड सैलून एंड स्पा सेंटर (इंदिरानगर)

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.