नार्दन रेलवे मेंस यूनियन कारखाना मंडल में क्षेत्रीय तकनीकी कर्मचारी सम्मेलन का हुआ आयोजन 

इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि शिव गोपाल मिश्रा जी रहे जो नार्दन रेलवे के मेंस यूनियन के महामंत्री हैं आपको बताते चलें कि हमारा देश क्षेत्रीय तकनीकी कर्मचारियों से भरा हुआ है यह क्षेत्रीय तकनीकी कर्मचारी सम्मेलन का कार्यक्रम है और यह ऐसे समय में हो रहा है जब रेलवे गहरे संक्रमण काल के दौर से गुजर रही है।

News24on
News24on

भारत सरकार की नीति एवं अन्य तो लगातार भारतीय रेल के अस्तित्व पर चोट पहुंचा रही है रेल के अंदर बड़े पैमाने पर निजी करण की शुरुआत हो चुकी है सरकार की नीतियों से आउट सोर्स सिंह को लगातार बढ़ावा मिल रहा है जो कार्य सरकारी कर्मचारी बापू भी कर सकते हैं वह भी आउट सोर्स से किया जा रहा है।

यह हाल सभी कारखानों का है अब तो सरकार पूरे तौर पर उत्पादन इकाइयों एवं मरम्मत कारखानों के भविष्य को दांव पर लगाते हुए निजी करण के रास्ते पर चल पड़ी है नॉर्दर्न रेलवे मेंस यूनियन के महामंत्री श्री गोपाल मिश्रा जी ने बताया कि हमें अपनी रेल को बचाना होगा रेल बचाओ देश बचाओ को हमें जन आंदोलन में तब्दील करना होगा ।

शिव गोपाल मिश्रा जी ने बताया कि रेल कर्मचारियों के प्रति संकल्प बंद हैं वह तकनीकी कर्मचारियों और उनको सम्मानजनक अस्थान दिलवाने हेतु अपना संघर्ष और प्रयास जारी रखेंगे जब तक उनको उनका अधिकार ना मिल जाए।

शिव गोपाल मिश्रा जी ने बताया कि हमारी मुख्य मांगे न्यू पेंशन स्कीम समाप्त कर पुरानी पेंशन बहाल करने की है और रोके गए महंगाई भत्ते की किस्त का एरियर के साथ तुरंत भुगतान सरकार को करना पड़ेगा सभी तकनीकी कर्मचारियों को समान रूप से जोखिम भत्ता दिया जाए।

News24on
News24on

तकनीकी कर्मचारियों के प्रशिक्षण अनुभव को दृष्टिगत रखते हुए नियुक्ति का ग्रेड पे उन्नीस सौ लेवल दो के स्थान पर ग्रेड पे 2400 एवं लेवल 4 दिया जाए तकनीकी कर्मचारियों के पद एमसीएम के पद में ग्रेड पे 4600 एमसीएम दो को 4200 एमसीएम एक को ग्रेड पे 4600 किया जाए।

गैर उत्पादन कार्य ने प्रशासनिक कारणों से समायोजित सभी तकनीकी कर्मचारियों को पीसीओ बता दिया जाए भंडार विभाग के सभी कर्मचारियों को पीसीओ बता दिया जाए भंडार विभाग के ग्रुप डी में कार्यरत कर्मचारियों को अन्य रेल विभाग में कार्यरत ग्रुप डी रेल कर्मचारियों की भांति पदोन्नति दिया जाए ।

लैब टेक्नीशियन का पदोन्नति चैनल ठीक से बनाया जाए प्रमोशन चैनल में सुधार कर नए सिरे से अब ग्रेडिंग की जाए रेलवे कालोनियों की दुख दशा सुधारी जाए जनवरी जून माह में सेवानिवृत्त होने वाले सभी कर्मचारियों को जनवरी माह में विशेष वेतन वृद्धि की जाए ।

सफाई कर्मचारियों की पदोन्नति का रास्ता खोला जाए कारखानों को बराबर वर्क लोड दिया जाए कारखानों में कार्यरत सभी कर्मचारियों को सेफ्टी कैडर कर्मचारी माना जाए कर्मचारियों के आयकर की गणना सारे भक्तों को हटाकर की जाए।

तकनीकी कार्यों मैं कार्यरत महिला कर्मचारियों की सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जाए महिला कर्मचारियों के लिए अलग से कार्य स्थल पर टॉयलेट एवं चेंजिंग रूम की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए तकनीकी कर्मचारियों को आधुनिक उपकरण एवं मटेरियल उपलब्ध कराया जाए कारखानों में फिजूलखर्ची पर रोक लगाकर उत्पादन की कास्ट कम करने का प्रयास किया जाए ।

सभी तकनीकी कर्मचारियों को उनकी सर्विस लाइफ में कम से कम एक बार कैडर बदलने का मौका दिया जाए कारखानों एवं मंडार विभाग ने बड़े पैमाने पर खाली लिपिकीय संवर्ग के पद कार्यरत तकनीकी कर्मचारियों से भरे जाएं।

कारखानों में यार्ड में काम करने वाले कर्मचारियों की अपग्रेडिंग काफी लंबे समय से नहीं हुई है कारखाना कर्मचारियों की भांति और कर्मचारियों की अपग्रेडिंग की जाए ।

यह तकनीकी कर्मचारी सम्मेलन अपनी मांगों को हासिल करने का संकल्प लिए दोहराता है साथ ही सम्मेलन के ऑल इंडिया रेलवे मेंस यूनियन के महामंत्री शिव गोपाल मिश्रा जी का आभार व्यक्त करता है।

वीरेंद्र कुमार श्रीवास्तव लखनऊ की विशेष रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.