crime in Lucknow :नकाबपोश बदमाशों ने दिनदहाड़े ज्वैलर्स कारोबारी को मारी गोली,हालत गंभीर

Spread the love

Crime in Lucknow :सरोजनीनगर I सरोजनीनगर में आज बुधवार को बाइक सवार दो नकाबपोश बदमाशों ने दिन दहाड़े दुकान के अंदर घुस कर एक ज्वेलर्स व्यवसाई को गोली मार दी। घटना अंजाम देने के बाद दोनों बदमाश बाइक सहित मौके से फरार हो गए।

Crime in Lucknow : cctv  फुटेज के सहारे बदमाशों का सुराग लगा रही पुलिस

गोली लगने से ज्वेलर्स व्यवसाई लहूलुहान होकर वहीं पर गिर पड़ा। गंभीर हालत में उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। उधर घटना की सूचना पाकर डीसीपी और एडीसीपी के साथ ही सरोजनीनगर पुलिस भी मौके पर पहुंची। फिलहाल पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज के सहारे बदमाशों का सुराग लगा रही है।

पुलिस ने बदमाशों का पता लगाने के लिए पास में लगे सीसीटीवी कैमरे का डीवीआर अपने कब्जे में ले लिया है। सरोजनीनगर के सरवन नगर निवासी नरेंद्र कुमार यादव 45 अपने तीन मंजिला मकान के निचले हिस्से में एसएस ज्वेलर्स नाम से सोने चांदी की दुकान चलाने के साथ ही ऊपरी हिस्से में परिवार सहित रहते हैं।

इसके अलावा नरेंद्र मुकुंद रियल स्टेट के नाम से प्रॉपर्टी डीलर का काम भी करते हैं। बताते हैं कि नरेंद्र ने करीब 6 माह पहले ही सोने चांदी की दुकान खोली थी। बुधवार को वह अपनी पत्नी विनोद कुमारी के साथ ज्वेलर्स दुकान पर मौजूद थे।

तभी शाम करीब 4:30 बजे एक बाइक से पहुंचे दो नकाबपोश बदमाश दनदनाते हुए दुकान के अंदर दाखिल हो गए। दोनों बदमाशों ने अपने चेहरे कपड़े से ढक रखे थे। हालाकि बताते हैं कि इस दौरान दुकान पर मौजूद नौकर आकाश ने दोनों से बाहर जूते निकालकर अंदर आने को कहा, लेकिन बदमाशों ने उसकी बात नहीं सुनी और अंदर चले गए।

दोनों बदमाश अपने हाथों में पिस्टल लिए हुए थे। दुकान के अंदर पहुंचते ही बदमाशों ने विनोद कुमारी को निशाना बनाते हुए उसके ऊपर फायर कर दी। लेकिन काउन्टर के पीछे बैठी विनोद कुमारी नीचे झुक गई। नीचे झुक जाने से वह बाल-बाल बच गई और बदमाशों के पिस्टल की गोली पीछे शीशे में जा लगी। इस दौरान जब तक नरेंद्र कुछ समझ पाता, तब तक बदमाशों ने उसके ऊपर एक फायर झोंक दिया।

जिससे पिस्टल की गोली नरेंद्र के सिर में जा धंसी और वह लहूलुहान होकर वहीं पर गिर पड़ा। लेकिन तब तक बदमाश वहां से बंगला बाजार की ओर बाइक सहित फरार हो गए। उधर नरेंद्र को बुरी तरह लहूलुहान देखकर विनोद कुमारी शोर मचाते हुए चीखने चिल्लाने लगी। उसकी चीख-पुकार सुनकर बेटे सिद्धार्थ के साथ ही आसपास के तमाम लोग वहां पहुंच गए।

बाद में गंभीर रूप से घायल नरेंद्र को आनन फानन परिजनों ने ले जाकर मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। वहीं घटना की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी गई। सूचना पाकर डीसीपी ख्याति गर्ग और एडीसीपी चिरंजीव नाथ सिन्हा के अलावा सरोजनीनगर पुलिस भी मौके पर पहुंची।

फिलहाल देर शाम तक पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगालती रही, लेकिन बदमाशों का कोई सुराग नहीं लग सका। वहीं घटना के बाद नरेंद्र यादव की ज्वेलर्स दुकान का शटर बंद होने के कारण अंदर लगे सीसीटीवी कैमरे की पड़ताल नहीं हो सकी।

फिलहाल बदमाशों का पता लगाने के लिए पुलिस ने पास में ही लगे सीसीटीवी कैमरे का डीवीआर अपने कब्जे में ले लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.