फरियाद लेकर कोतवाली पहुंची विवाहिता को इंस्पेक्टर ने फिल्मी गाना सुनाकर बनाया …

Spread the love


-पुलिस कमिश्नर ने पूरे मामले की जांच के दिए आदेश
-मोहनलालगंज कोतवाली का मामला
लखनऊ। दहेजलोभी ससुरालीजनों के जुल्म की शिकार विवाहिता घायल अवस्था में मोहनलालगंज कोतवाली शिकायत लेकर पहुंची तो इंस्पेक्टर ने त्वरित कार्रवाई की बजाय गाना सुनाते हुए फिल्म का नाम पूछने लगे। इतना ही नहीं साहब का इससे भी मन नहीं भरा तो उन्होंने पति द्वारा और ज्यादा गहरे चाकू के घाव ना करने की बात कहकर उसका साथी पुलिसकर्मियों के साथ मजाक उड़ाया। आरोप है कि इंस्पेक्टर ने मुकदमा दर्ज करने की बजाय उसे चलता कर दिया। पूरे मामले का सोशल मीडिया पर वीडियों वायरल होने के बाद महकमे की किरकिरी होने पर पुलिस कमिश्नर ने डीसीपी दक्षिणी को  पूरे मामले की जांच कर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं। वहीं पुलिस कमिश्नर की फटकार के बाद पुलिस ने पीड़िता द्वारा की गयी शिकायत पर आरोपी पति सहित ससुरालीजनों पर गम्भीर धाराओं में मुकदमा भी दर्ज किया है।

मोहनलालगंज के कल्ली पूरब मजरा टिकरा निवासी रेनू के मुताबिक उसका विवाह 26 जून 2020 को राहुल उर्फ राजू से हुआ था। शादी के एक माह तक तो सब ठीक ठाक रहा लेकिन उसके बाद पति राहुल,सास चांदनी व ससुर महेश पिता दहेज की मांग को लेकर प्रताडि़त कर पिटाई करने लगे।  पीडि़ता की मानें तो मायके पक्ष ने दहेज देने में असमर्थता जतायी तो पति ने बीते शुक्रवार को उसकी बुरी तरह पिटाई कर चाकू से हाथ काट दिया। इतना ही नहीं जब वो मरणासन्न हो गयी तो उसे छत से उठाकर नीचे फेक दिया और परिजनों से मिट्टी का तेल लाकर जलाकर मारने की बात कही। वहीं मोहल्ले वालों को भनक लगी तो उसे इलाज के लिये अस्पताल लेकर गए। वहीं पति ने मायके वालों से झूठ  बोला कि छत से गिरकर घायल हो गयी। इस दौरान पिता व मां देखने आये तो उनसे आपबीती बतायी। जिसके बाद पति सहित ससुरालीजन पिता व मां से भी मारपीट पर उतारू हो गये। जिसके बाद मां ने डायल 112 नम्बर पर फोन कर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने थाने आकर शिकायत करने की बात कही। रेनू का आरोप है जब वह किसी तरह घायल अवस्था में अपनी शिकायत लेकर मोहनलालगंज कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक दीनानाथ मिश्रा के पास पहुंची तो कार्रवाई की बजाय उन्होंने उसे एक फिल्मी गाना सुनाते हुये फिल्म का नाम पूछा उसने फिल्म का नाम बताने में असमर्थता जतायी तो हाथों में लगे चाकू के लगे घावों का मजाक उड़ाते हुए पति द्वारा ओर ज्यादा गहरे घाव कर जान से मार देने की बात कहते हुए कार्यालय में मौजूद साथी पुलिसकर्मियों के साथ जमकर मजाक उड़ाया। इसके बाद वह प्रभारी निरीक्षक के कार्यालय से बाहर निकल गयी। इंस्पेक्टर दीनानाथ मिश्रा से उन पर लगे आरोपों को निराधार बताया है।

यह भी पढ़े :LUCKNOW : पारा कोतवाली के तत्कालीन इंस्पेक्टर के खिलाफ एफआईआर  

इन फिल्मी गानों को सुनाने का आरोप
आरोप है कि इंस्पेक्टर दीनानाथ मिश्रा से महिला ने शिकायत की तो उन्होंने महिला को पहले गाना सुनाया (आइए आपका इंतजार था, देर हुई आने में तुमको, शुक्र है कि जो आए तो) और पूछा कि यह किस फिल्म का गाना है। आरोप है कि पीडि़ता जब वह थाने पहुंची तो इंस्पेक्टर को उसने अपना हाथ दिखाया और कहा कि ससुरालीजन चाकू से हाथ पर वार भी करते थे। आए दिन मारपीट करते हैं। पीडि़ता का आरोप है कि इस पर इंस्पेक्टर ने कहा कि क्यों थोड़ी थोड़ी चाकू उन्होंने हाथ पर मारी सीधे पेट पर क्यों नहीं मार दी। उन्हें तुम्हारे पेट में चाकू मारनी चाहिए थी। हालात की मारी महिला फूट -फूट कर रोने लगी। इसके बाद उल्टे पांव लौट गई।

यह भी पढ़े :UP Budget 2021: बीते वित्तीय वर्ष से 38 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का बजट
आलाधिकारियों के फटकार के बाद दर्ज हुआ मुकदमा
दोपहर बाद इंटरनेट मीडिया पर मामले का वीडियो वायरल हुआ तो पुलिस महकमें में हड़कंप मच गया। आलाधिकारियों ने इंस्पेक्टर को जमकर फटकार लगाई। इसके बाद पीडि़ता की तहरीर पर उसके पति समेत अन्य ससुरालीजनों के खिलाफ  मुकदमा दर्ज किया। मामले में इंस्पेक्टर दीनानाथ मिश्रा ने बताया कि रेनू के आरोप निराधार हैं। उसे कोई गाना नहीं सुनाया गया। तहरीर के आधार पर उसके पति राहुल, ससुर महेश, सास और दो ननद के खिलाफ  मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने डीसीपी साउथ रवि कुमार को मामले की जांच के आदेश दिए हैं। दो दिन के अंदर वह अपनी रिपोर्ट  देंगे। उसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.