Lakhimpur Kheeri Case : बहुचर्चित लखीमपुर तिकुनिया हत्याकांड में केन्द्रीय मंत्री के बेटे को मिली जमानत

Spread the love

Lakhimpur Kheeri Case : लखीमपुर खीरी। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में 3 अक्टूबर को हुए बहुचर्चित तिकुनिया हिंसाकांड मामले में मुख्य आरोपी केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा को गुरुवार को जमानत मिल गई है।

News24on

आशीष मिश्रा को हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच से जमानत मिली है। यह आदेश जस्टिस राजीव सिंह की एकल पीठ ने दिया। कोर्ट ने 18 जनवरी 2022 को आशीष की जमानत अजीज़् पर सुनवाई के बाद अपना आदेश सुरक्षित रखा था।

Lakhimpur Kheeri Case : घटना में चार किसानों व एक स्थानीय पत्रकार समेत आठ लोगों की हुई थी मौत

तिकुनियां में हुई हिंसा के दौरान किसानों की मौत के मामले एसआईटी ने कुछ दिन पहले कोर्ट में 5 हजार पन्ने की चार्जशीट दाखिल की थी। जिसमें केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे अशीष मिश्रा को मुख्य आरोपी बनाते हुए 14 लोगों को आरोपी बनाया था।

चार्जशीट के मुताबिक, सोची समझी साजिश के तहत धरना प्रदर्शन कर रहे किसानों को जीप और एसयूवी कार से कुचला गया था।

News24on

बताते चलें कि 3 अक्टूबर को हुई इस घटना में चार किसानों व एक स्थानीय पत्रकार समेत आठ लोगों की हत्या हुई थी। आशीष मिश्रा व उसके साथियों पर आरोप है कि वह फायरिंग करते हुए किसानों को अपनी गाड़ी से रौंदते हुए निकल गया था।

इसमें चार की मौत और कई गंभीर घायल हो गये। 4 अक्टूबर को तिकुनिया थाने में आशीष मिश्रा समेत कई अन्य के खिलाफ  एफआईआर दर्ज की गई।  हालांकि बाद में एसआईटी की जांच में इस बात का खुलासा हुआ कि यह एक हादसा नहीं बल्कि सोची समझी साजिश के तहत हत्याकांड है।

इस मामले में पुलिस की उस वक्त किरकिरी हो गई जब एसआईटी ने पूरे प्रकरण को हत्या की साजिश बताया और गंभीर धाराएं जोड़ी थी. पुलिस ने आशीष मिश्रा पर धारा 307 की जगह 279, 326 की जगह 338 और धारा 341 की जगह 304 ए लगाया था।