कानपुर में बैट्री स्क्रैप समेत दो फैक्ट्रियों पर वाणिज्य कर टीम का छापा, एक करोड़ का माल सीज

वाणिज्य कर विभाग को कानपुर की फैक्ट्रियों के साथ एक आफिस में स्टॉक रजिस्टर से एक करोड़ रुपये का कच्चा व बना माल अधिक मिला है। फैक्ट्री मालिक कागजात नहीं दिखा पाए तो वाणिज्य कर अफसरों ने माल कब्जे में लिया है।

कानपुर, बैट्री स्क्रैप और लेड इंगट फैक्ट्री पर छापा मारकर वाणिज्य कर विभाग ने बुधवार को एक करोड़ रुपये का अतिरिक्त माल सीज किया। पनकी में साइट नंबर तीन में दो फैक्ट्री व एक कार्यालय में छापेमारी हुई। फैक्ट्री मालिक स्टॉक के हिसाब से कागजात नहीं दिखा सके।

वाणिज्य कर विभाग में एडीशनल कमिश्नर ग्रेड-वन जोन दो ओपी सिंह को जानकारी मिली थी कि पनकी में बैट्री स्क्रैप व लेड इंगट से जुड़ी दो फैक्ट्री में बिना कागजों के माल की खरीद व बिक्री हो रही है। इसमें एक पार्टनरशिप फर्म थी और दूसरी कंपनी, लेकिन दोनों ही कंपनी में एक व्यक्ति कॉमन है, जो दोनों ही फैक्ट्री संचालित करते हैं। इस पर एडीशनल कमिश्नर ग्रेड-टू अरविंद मिश्रा, संयुक्त आयुक्त एसके सिंह, डीके वर्मा, उपायुक्त चंद्रशेखर, जितेंद्र सिंह, संतोष मणि, प्रदीप कुमार, ज्ञानेश त्रिपाठी व ज्ञान रत्न ने तीन टीमें बनाकर छापा मारा। इसमें आसपास बनीं दोनों फैक्ट्री और उनके एक परिसर में बने कार्यालय में कार्रवाई शुरू की गई।

वाणिज्य कर की टीम को बहुत सारे कच्चे पर्चे मिले। टीम ने स्टॉक रजिस्टर देखा और फैक्ट्रियों में माल की गणना की तो पाया कि करीब एक करोड़ रुपये का माल स्टॉक रजिस्टर से ज्यादा है। इस पर अधिकारियों ने माल सील कर दिया। टीम को तीनों ही स्थानों पर कच्चे पर्चे भी मिले हैं। अधिकारियों के मुताबिक, अभी 36 लाख रुपये के कर का मामला बन रहा है, लेकिन जांच में यह और भी हो सकता है।

 

News 24On से दीपक शुक्ला की खास रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.