पिता की मार के डर से नाबालिग ने लगाई फांसी

कानपुर. कानपुर देहात (Kanpur Dehat) के डेरापुर कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत गांव में पेड़ से लटका नाबालिक बच्चे का शव मिलने से सनसनी फैल गई है. खेत पर निकले ग्रामीणों ने पेड़ से लटका शव देखते ही 112 डायल कर पुलिस को सूचित किया.

मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पेड़ से नीचे उतारा. शव की शिनाख्त ग्रामीणों ने लखन लाल यादव के बेटे सच्चिदानंद यादव के रूप में की. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

गिनती में दो बकरियां कम होने को लेकर पिता ने लगाई थी फटकार

news24on
news24on

रात में घर से दूध देने के लिए निकले 17 साल के किशोर ने पेड़ से लटक कर की खुदकुशी.मृतक सच्चिदानंद की उम्र (17) वर्ष थी और वह घर में रहकर खेती और बकरी चराने का काम करता था.

दरअसल सच्चिदानंद रोज की तरह कल बकरी चराने के लिए गांव गया था. जहां लौटते वक्त बकरियों की संख्या कम थी. पूछने पर सच्चिदानंद ने बताया कि दोनों बकरियां कहीं लापता हो गई है. इसके बाद पिता और बाबा ने सच्चिदानंद को जमकर फटकार लगाई. रोता हुआ सच्चिदानंद घर के बाहर बैठा था.

वह गांव में दूध देने के लिए निकला और घर नहीं लौटा. देर रात तक चल बेटा नहीं लौटा तो परिजन परेशान होकर पुलिस चौकी पहुंचे जहां उन्होंने बेटे के लापता होने की सूचना दर्ज कराई.

साथ ही गांव में परिजन बेटे की तलाश में जुट भी गए. जिसके बाद आज सुबह गांव से कुछ दूर सच्चिदानंद का पेड़ से लटका हुआ शव मिला. मौके पर पहुंचे डेरापुर कोतवाल समीर सिंह ने बताया कि शव को नीचे उतरवा कर पोस्टमार्टम को भेज दिया.

एसओ के मुताबिक मृतक के परिजनों से हुई बातचीत के अनुसार बाबा की डांट से क्षुब्ध होकर उसने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.