भाजपा नेता के काफिले की गाड़ी ने किसानों को कुचला,आठ की “मौत” जमकर बवाल

Spread the love
आठ लोगों की मौत के बाद लखीमपुर खीरी बना सियासी जंग का मैदान
-किसानों के जत्थे संग राकेश टिकैत रवाना
– पीएसी के साथ पैरा मिलिट्री फोर्स तैनात,लोगों से शान्ति की अपील  
-भाजपा नेता के काफिले की गाड़ी से किसान कुचले, जमकर बवाल

लखनऊ। लखीमपुर खीरी में डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के कार्यक्रम से पहले बड़ा बवाल हो गया है। उपमुख्यमंत्री को काले झंडे दिखाने के लिए जमा हुए किसानों से पहले पुलिस और भाजपा कार्यकर्ताओं की झड़प हुई। इसी दौरान भाजपा नेताओं की गाडिय़ों से कुछ किसान कुचले गए। जिसमें आठ लोगों की मौत हो गई और कई घायल हो गए। मरने वालों में चार किसान और चार कार सवार बताए जा रहे हैं। इससे आक्रोशित किसानों ने कई गाडिय़ों में आग लगा दी और भाजपा नेताओं को भी जमकर पीटा भी।डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य रविवार को लखीमपुर खीरी को 117 करोड़ की सौगात देने आए थे। इस दौरान उन्होंने 165 परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण भी किया। इसके बाद डिप्टी सीएम केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी के गांव की ओर रवाना हो गए।
बताते हैं कि इस रोड पर पहले से भारी संख्या में किसान मौजूद थे। सड़क पर मौजूद किसान कृषि कानून का विरोध कर रहे थे। आरोप है कि इस बीच भाजपा का झंडा लगी गाडिय़ों की चपेट में कुछ किसान आ गए।
News24on
जिसमें दलजीत सिंह (32) निवासी नानपारा बहराइच, गुरविंदर सिंह (20) निवासी नानपारा बहराइच, लवप्रीत सिंह (25) निवासी मझगई पलिया, नक्षत्र सिंह (68) निवासी धौरहरा, हरिओम मिश्रा निवासी फरधान (ड्राइवर) व शिवम मिश्रा निवासी लखीमपुर समेत आठ लोगों की मौत हुई है।

हादसा होते देख अन्य किसान आक्रोशित हो गए। इसके बाद किसानों ने बवाल काट दिया। इधर बवाल की सूचना मिलते पुलिस मौके पर पहुंची और किसानों को गन्ने के खेत में खदेड़ दिया। हालांकि हालात को काबू करने के लिए अतिरिक्त फोर्स लगाया गया है।

प्रियंका समेत अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं के पहुंचने का अंदेशा

लखीमपुर खीरी में आठ लोगों की मौत के बाद हुआ बवाल बढ़ता जा रहा है। खीरी की घटना पर अब राजनीति दलों ने भी सियासी जंग तेज कर दी है। सोमवार को कई पार्टियों के नेताओं के लखीमपुर खीरी आने की संभावना है। अखिलेश यादव से लेकर प्रियंका गांधी तक ने लखीमपुर आकर पीडि़त परिवारों से मिलने की बात कही है।
ऐसे में माना जा रहा है कि सोमवार को राजनीति दल लखीमपुर को सियासत का नया मैदान बना सकते हैं। इसको देखते हुए शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए सरकार ने भारी मात्रा में फोर्स भेजी है। यूपी पुलिस मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार पीएसी के साथ केन्द्रीय अर्धसैनिक बलों की तीन-तीन कंपनियों को लखीमपुर भेजा गया है।
इसके अलावा सचिव से लेकर एडीजी स्तर के पुलिस अफसर मौके पर मौजूद हैं। साथ ही लोगों से शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है।