ओवरटेक के चक्कर में कार नंनद-भाभी को रौंदते हुए खाई में गिरी, 3 की मौत

Spread the love

लखनऊ। निगोहां कोतवाली के सामने हाइवे पर सोमवार को डीसीएम को ओवरटेक करने के दौरान अनियंत्रित हुई तेज रफ्तार कार सड़क किनारे पैदल चल रही नंनद-भाभी को रौंदते हुए सात फिट गहरी खाई में जा गिरी।

हादसे में नंनद-भाभी की मौत हो गयी, जबकि कार सवार मां-बेटे घायल हो गये। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल-मां बेटे को अस्पताल भेजा। साथ ही मृतक नंनद-भाभी
के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

कार चालक मां-बेटे गंभीर रूप से घायल

निगोहां कस्बा निवासी मजदूर शिवप्रसाद के मुताबिक उनकी पत्नी सुनीता(35) बाराबंकी भवनियापुर निवासी चचेरी बहन रेशमा (26)पत्नी अजय कुमार के साथ सोमवार दोपहर नगराम मोड़ पर स्थित स्टोर-99 में खरीददारी करने पैदल जा रही थी।

जैसे ही थाने के सामने पहुंची। तभी रायबरेली की ओर से लखनऊ जा रही डीसीएम को ओवरटेक करने के चक्कर में तेज रफ्तार महिन्द्रा एसयूवी कार दोनों को रौंदते हुए सात फिट गहरी खार्इं में जा गिरी।

जिसे थाना महानगर शालीमार गैलन निवासी धीरज शुक्ला चला रहा था। मौके पर ही रेशमा व सुनीता की मौत हो गई जबिक सात फिट गहरी खाई में गिरी कार पलट गई और उसमे सवार चालक धीरज शुक्ला और प्रेमलता बुरी तरह से घायल हो गई।

कार सवार दोनों मां-बेटा बताए जा रहे हैं। प्रभारी निरीक्षक जीतेन्द्र प्रताप सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और घायल मां-बेटे को मोहनलालगंज सीएचसी पहुंचाया।

इसके साथ ही सीएचसी रेशमा व सुनीता को भी अस्पताल ले गए, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। फिलहाल घायल मां-बेटे का निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है।

मातम में बदली विवाह की खुशियां

शिव प्रसाद ने बताया कि चचेरी बहन काजल का सोमवार की रात विवाह था। जिसकी पैपूजी लेकर उसकी ससुराल खुजौली मोहनलालगंज जाना था।

कार्यक्रम में जाने के लिए बहन रेशमा अपनी चचेरी भाभी सुनीता के साथ खरीददारी करने नगराम मोड़ पर जा रही थी।

दोनों की सड़क दुर्घटना में मौत की खबर घर पहुंचते ही कोहराम मच गया। विवाह की खुशियां मातम में बदल गयी।

भाइयों के बीच इकलौती बहन थी रेशमा

परिजनों ने बताया कि मृतक रेशमा अपने चार भाइयों सुरेश, गुड्डू, दिनेश, मुकेश के बीच इकलौती बहन थी।

पूरे परिवार की बहुत लाडली थी। बीते शनिवार को ही वह चचेरी भतीजी काजल के विवाह में शामिल होने के लिये बाराबंकी स्थित अपनी ससुराल से मायके निगोहां आयी थी।

रेशमा की मौत की खबर पाकर पति अजय परिवार संग बाराबंकी से निगोहा पहुंचे, जहां पत्नी का शव देख बेसुध होकर गिर पड़े।

मासूम बच्चे के सिर से उठा मां का साया

मजदूरी कर अपने परिवार के लिये दो जून की रोटी कमाने वाले शिवप्रसाद के ऊपर भी दु:खों का पहाड़ टूट पड़ा।

हादसे में पत्नी सुनीता की मौत की खबर पाकर शिवप्रसाद समेत उसके बच्चे बिलख पड़े। मृतक सुनीता के परिवार में बेटी पूनम (15)व प्रिया(5), बेटे सुमित(11) व अमित (7)है, जिनके सिर से मां का साया उठ गया।
……………

दो कंटेनर आपस में भिड़े, एक चालक मौत, दूसरा घायल

लखनऊ। बंथरा थाना क्षेत्र के कटी बगिया व मोहान रोड स्थित नारायनपुर तिराहा के पास रविवार रात करीब 10: 30 बजे दो कंटेनर आपस में भिड़ गए।

जिसमें एक कंटेनर के चालक की मौत हो गई जबिक दूसरा चालक घायल हो गया। जिसे घायलावस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जानकारी के मुताबिक एक ट्रक रामगढ़ी स्थित अमेजॉन कंपनी से माल खाली करके वापस दिल्ली जा रहा था। इसी बीच दूसरा ट्रक मोहन की तरफ से कटी बगिया की ओर जा रहा था।

तभी नारायनपुर तिराहे के पास दोनों कंटेनर ट्रक में आमने-सामने भिड़ंत हुई। भिड़ंत इतनी तेज थी कि एक कंटेनर का चालक जिला अम्बेडकरनगर थाना कश्मीरीपुर ग्राम बतिया निवासी दिनेश यादव (31) पुत्र शीतला प्रसाद की मौके पर ही मौत हो गई।

जबकि दूसरे कंटेनर के चालक जिला एटा थाना मिरैची ग्राम नयावास निवासी गया प्रसाद (45)पुत्र बाबूराम गंभीर रूप से घायल हो गया।

जिसे मौके पर पहुंचे हरौनी चौकी प्रभारी सर्वेंद्र कुमार ने इलाज के लिए अस्पताल भेजवाया। उधर मृतक चालक के परिजनों को सूचना देने के बाद शव को पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया।

कटिबगिया मोहान रोड पर हुए इस हादसे के चलते पूरी रात व सोमवार दिन में यातायात बाधित रहा।