देह व्यापार के साथ तहजीब के शहर में तेजी से फैल रहा है नशे का कारोबार, दो विदेशी लड़कियों समेत 10 गिरफ्तार

Spread the love

 कोरोना महामारी काल में होटलों में चल रहा है अय्यशी का कारोबार

-सेक्स रैकेट में उजबेकिस्तान लड़कियों समेत अंतर्राष्ट्रीय गैंग के 10 आरोपी गिरफ्तार

-आरोपियों के पास से भारी मात्रा में नशीला पदार्थ व नकदी बरामद

लखनऊ। कोरोना महामारी के दौरान बीते दिनों संक्रमण से थाईलैंड की युवती की मौत के बाद अब दो और विदेशी युवतियों का सेक्स रैकेट गिरोह में गिरफ्तार होना और भारी मात्रा में नशीला पदार्थ बरामद होना तहजीब के शहर के लिए बड़े खतरे की ओर इशारा कर रहा है। खास बात यह है कि कोरोना महामारी में हवाई आवगमन बंद होने के बावजूद विदेशी युवतियों की लखनऊ में चोरी-छिपे होटलों में रहना पुलिस व खुफिया विभाग पर भी कई सवालियां निशान खड़े कर रहे हैं। वहीं सूत्रों की मानें तो शहर में कई और विदेशी युवतियों के चोरी-छिपे होने की आशंका है। बावजूद लोकल इंटेलिजेंस यूनिट (एलआईयू) के पास कोई पुख्ता जानकारी नहीं हैं।

गौरतलब हो कि चिनहट इलाके में सोमवार देर रात पुलिस ने छापेमारी कर होटल की आड़ में सेक्स रैकेट संचालन करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। सोमवार देर रात पुलिस ने लक्जरी इन होटल से दो विदेशी समेत चार लड़कियों के अलावा कुल 10 लोगों के खिलाफ  अनैतिक देह व्यापार की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर जेल भेजा है। होटल की तलाशी के दौरान करीब 14 हजार रुपए की नगदी, 425 ग्राम स्मैक, तीन अमेरिकी डॉलर, आपत्तिजनक सामग्री और इलेक्ट्रॉनिक सामान बरामद हुए हैं। सेक्स रैकेट गिरोह का संचालन गिरफ्तार गाजीपुर थाना क्षेत्र निवासी अफजल उर्फ राजा और इंदिरा नगर के ललित शर्मा द्वारा किया जाता था।

देह व्यापार के मामले पुलिस पर लग चुके हैं आरोप

गत वर्ष 13 फरवरी को इन्दिरानगर में पुलिस ने सेक्स रैकेट गिरोह का पर्दाफाश करते हुए युवक व युवतियों को पकड़ा था। आरोपियों में सचिवालय संविदा कर्मी विशाल सैनी भी शामिल था। जेल से छूटने के बाद विशाल ने ट्रेन के आगे कूद कर आत्महत्या कर ली थी।

विशाल के पास से बरामद सुसाइड नोट में अपनी मौत को जिम्मेदार एडीसीपी उत्तरी प्राची सिंह को ठहराया था। विशाल के परिजनों का कहना था कि छापेमारी के दौरान वह पास में स्थित एक दुकान पर चाऊमीन खा रहा था। इसी दौरान पुलिस ने उसे पकड़ लिया। जेल से छूटने के बाद लोक लाज से आहत होकर विशाल ने आत्महत्या कर ली थी। मामले में परिजनों ने एडीसीपी प्राची सिंह के खिलाफ लिखित शिकायत की,लेकिन महकमे ने क्लीनचिट दे दी। इतना ही नहीं पुलिस पर संरक्षण का भी आरोप लगते रहे हैं।

डिमांड पर मंगायी जाती है विदेशी लड़कियां

एडीसीपी पूर्वी कासिम आब्दी का कहना है कि सोमवार देर रात विकल्प खंड स्थित एक होटल में छापेमारी की गई। इस दौरान पुलिस ने दो विदेशी महिलाओं समेत कुल 10 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की तो पुलिस का शक और गहरा गया। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि स्थानीय स्तर पर होटल की आड़ लेकर सेक्स रैकेट का संचालन कर रहे थे। इतना ही नहीं ग्राहकों की डिमांड पर दिल्ली समेत अन्य स्थानों से लड़कियां लाई जाती थी। होटल आने वाले मालदार ग्राहकों की डिमांड पूरी कर आरोपी संचालक मोटी कमाई कर रहे थे।

सोशल मीडिया के माध्यम से फंसाते थे ग्राहक

सोशल मीडिया के माध्यम से मालदार ग्राहकों को देशी-विदेशी युवतियों की फोटो दिखाकर फंसाया जाता था। इसके बाद अलग-अलग नाम व पता से होटल में कमरा बुक कर बकायदा मन पसंद लड़की उपलब्ध करायी जाती है। किसी को इसकी भनक न लग सके। इसलिए आस-पास सरगना समेत गिरोह के अन्य सदस्य सक्रिय रहते थे। इतना ही नहीं डिमांड पर शराब से लेकर स्मैक व अन्य नशीला पदार्थ भी ग्राहकों को उपलब्ध कराया जाता था।

लखनऊ के पॉश इलाकों में फैला है गिरोह का जाल

सेक्स रैकेट गिरोह का ठिकाना स्पा पार्लर के साथ ही पॉश इलाकों में स्थित होटल हैं। लखनऊ के गोमतीनगर,इन्दिरानगर,चिनहट,हजरतगंज समेत अन्य पॉश इलाकों के होटलों में गिरोह का जाल फैला हुआ है। यहां होटल में देशी-विदेशी लड़कियों को उपलब्ध कराया जाता है।

स्थानीय जानकारों का कहना है कि पुलिस एक तरफ सेक्स रैकेट के खिलाफ अभियान चलाकर खानापूर्ति कर रही है तो दूसरी तरफ आरोपी तेजी से पांव जमा ले रहे हैं। हाल के दिनों में पुलिस की ताबड़तोड़ छापेमारी में राजधानी के चिनहट, विभूतिखंड इंदिरानगर और गाजीपुर इलाके में पुलिस ने सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया था। बतातें चलें कि कुछ दिन पहले थाईलैंड की युवती की कोरोना संक्रमण से डॉ.राम मनोहर लोहिया में मौत हो गई थी।

पुलिस ने आनन-फानन अंतिम संस्कार करा दिया था। मामले में सांसद पुत्र की संलिप्ता होने का आरोप लगा था। साथ ही पुलिस की काफी फजीहत हुई थी। जांच-पड़ताल में युवती विभूतिखंड स्थित प्रापर्टी डीलर के स्पा पार्लर में काम करने पुष्टिï हुई थी। फिलहाल पुलिस मामले में तफ्तीश कर रही है।

 

क्या बोले जिम्मेदार

सेक्स रैकेट गिरोह में शामिल विदेशी युवतियों के पास से वैध बीजा व पासपोर्ट बरामद हुआ है। एलआईयू के पास घूमने या फिर अन्य विदेश से आने वाले लोगों की जानकारी होना जरूरी नहीं है। विदेशी लोगों के ठहरे होने की जानकरी की जा रही है।

       संजीव सुमन
डीसीपी पूर्वी, लखनऊ कमिश्नरेट

Leave a Reply

Your email address will not be published.