सीएमओ व स्वास्थ्यकर्मियों का आवास ध्वस्त कर बनेगा अस्पताल

चंदौली : मेडिकल कालेज के निर्माण की प्रक्रिया तेज हो गई है। जिला अस्पताल परिसर में सीएमओ व स्वास्थ्यकर्मियों का आवास ध्वस्त कर 300 बेड का अत्याधुनिक अस्पताल बनेगा। कार्यदायी संस्था लोक निर्माण विभाग ने आवासों में रहने वालों को नोटिस भेजी है। साथ ही ध्वस्तीकरण का आदेश जारी करते हुए आवास खाली करने को कहा है। आवास खाली होने के बाद विभाग का बुल्डोजर इन आवासों पर गरजने लगेगा। मेडिकल कालेज के निर्माण से अतिपिछड़े जिले में स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर होंगी।

 

जिले में दो साल में मेडिकल कालेज बनकर तैयार हो जाएगा। इसमें 300 बेड का अस्पताल और छात्रों के लिए फैकल्टी व आवासीय परिसर का निर्माण होगा। जिला अस्पताल परिसर में अस्पताल बनेगा। वहीं सैयदराजा क्षेत्र के बरठी-कमरौर गांव में मेडिकल कालेज की फैकल्टी और आवासीय परिसर का निर्माण कराया जाएगा। जिला अस्पताल परिसर में सीएमओ व स्वास्थ्यकर्मियों के आवास हैं। उन्हें तोड़कर यू शेप में दो मंजिला अस्पताल का निर्माण होगा। इसके लिए लोक निर्माण विभाग ने आवास में रहने वाले सभी कर्मियों को नोटिस जारी कर दी है। उन्हें जल्द से जल्द आवास खाली करने को कहा गया है ताकि ध्वस्तीकरण की कार्रवाई शुरू कराई जा सके। आवासों को ध्वस्त करने और मलवा हटाने के बाद मेडिकल कालेज की नींव पड़ जाएगी। कार्यदायी संस्था को 350 करोड़ की लागत वाले प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए दो साल का समय दिया गया है। उम्मीद जताई जा रही कि 2023 से मेडिकल कालेज में छात्रों का प्रवेश और अस्पताल में मरीजों का इलाज शुरू हो जाएगा।

जिला अस्पताल परिसर में कर्मियों के आवास तोड़कर मेडिकल कालेज का अस्पताल बनेगा। इसके लिए पीडब्ल्यूडी विभाग की नोटिस मिली है। कर्मियों को आवास खाली करने को कहा गया है ताकि जल्द निर्माण कार्य शुरू हो सके।

डा. वीपी द्विवेदी, सीएमओ

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *