Crime in Lucknow:त्रिकोणीय प्रेम-प्रसंग में हुई थी कारपेंटर की हत्या

Spread the love

Crime in Lucknow: प्रेमिका के पिता समेत चार गिरफ्तार

लखनऊ। करीब सवा साल पहले ठाकुरगंज हुसैनबाड़ी के 18 वर्षीय रियाज की हत्याकांड का खुलासा करते हुए प्रेमिका के पिता समेत चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। रियाज की हत्या त्रिकोणीय प्रेम-प्रसंग में हुई थी। पुलिस ने हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेज दिया है।

पुलिस सवा साल बाद हत्याकांड का किया खुलासा

ठाकुरगंज सोना भट्टा बरौरा हुसैन बाड़ी निवासी सिराज अहमद के 18 वर्षीय पुत्र रियाज की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज 24 अगस्त 2020 कराई गई थी। 11 दिन बाद 4 सितंबर 2020 को रियाज का शव भुवरपुल के पास झाडिय़ों से बरामद हुआ था।

पिता सिराज अहमद ने हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। ठाकुरगंज इंस्पेक्टर हरिशंकर चंद ने बताया कि मामले की जांच-पड़ताल की जा रही थी।

इसी दौरान प्रकाश में आए समनान गार्डेन ठाकुरगंज निवासी मोहम्मद यूनुस, हुसैनबाड़ी निवासी फिरोज अहमद,मुन्ना व अंसार नगर सआदतगंज निवासी शादाब को दबोच लिया गया। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि यूनुस की बेटी का रियाज के साथ प्रेम-प्रसंग चल था।

जबकि यूनुस की बेटी की शादी शादाब के साथ तय थी। शादी से पूर्व रियाज और उसकी होने वाली पत्नी के प्रेम-प्रसंग की जानकारी हुई तो शादाब ने सिर्फ रियाज को बेइÓजत ही नहीं किया था बल्कि लोगों के सामने उसे थप्पड़ भी मारा था। इसके बावजूद भी रियाज यूनुस की बेटी से ही विवाह करना चाहता था।

सामाजिक प्रतिष्ठा धूमिल होने की वजह से युवती के पिता यूनुस ने अपने रिश्तेदारों फिरोज, मुन्ना और शादाब के साथ मिलकर रियाज की हत्या की साजिश रची। योजना के तहत 24 अगस्त 2020 को रियाज को भुवरपुल के पास ले जाकर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी थी।

उसकी लाश को झाडिय़ों के पास फेंक कर सभी फरार हो गए। इंस्पेक्टर हरिशंकर चंद ने बताया कि हत्याकांड का खुलासा करने वाली टीम में एसआई राकेश चौरासिया,अनिल सिंह तोमर,अशोक कुमार सिंह व सिपाही सुशील कुमार व जितेन्द्र कुमार शामिल हैं।

Crime in Lucknow : बहाने से बुलाकर वारदात को दिया अंजाम

कारपेंटर रियाज की हत्या की योजना युनूस और शादाब ने तैयार की थी। योजना में युनूस का बेटा फिरोज और लखीमपुर निवासी मुन्ना भी शामिल थे। मुन्ना ने ही काम दिलाने के बहाने से रियाज को मिलने के लिए बुलाया था। भुंवर पुल के पास रियाज से मुन्ना बातचीत करने का नाटक करता रहा। इस दौरान ही शादाब, फिरोज और युनूस ने कपड़े से गला कस कर रियाज की हत्या कर दी थी। फिर शव झाडिय़ों में फेंक कर आरोपी फरार हो गए थे।

Crime in Lucknow :सवालों के घेरे में युवती की भूमिका

रियाज और युवती के बीच फोन पर अक्सर बात होती थी। युनूस भी रियाज को जानता था। 18 अगस्त को युनूस के बेटे फिरोज की शादी थी। जिसमें रियाज भी शामिल हुआ था। यहीं पर रियाज और युनूस की बेटी बात कर रहे थे।

तभी युवती के मंगेतर शादाब ने उसे रियाज से बात करते देख लिया था। इसे लेकर काफी हंगामा हुआ था। शादाब ने मंगेतर को तमाचा जड़ते हुए रियाज को भी अपशब्द कहे थे। वहीं रियाज को धमकी भी दी थी।

इंस्पेक्टर ठाकुरगंज हरिशचंद्र के मुताबिक रियाज को रास्ते से हटाने के बाद युनूस ने बेटी की शादी शादाब से कर दी थी। उन्होंने बताया कि घटना में युवती की क्या भूमिका थी। इसकी भी जांच की जाएगी।