शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी पर एक और एफआईआर

Spread the love

लखनऊ। शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी के खिलाफ चौक कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया है। उनके खिलाफ धर्मगुरु मौलाना कल्बे जव्वाद ने तहरीर देते हुए समुदाय की भावना आहत करने का आरोप लगाया था।

धर्मगुरु कल्बे जव्वाद की तहरीर पर दर्ज हुआ मुकदमा

कश्मीरी मोहल्ला निवासी सै. वसीम रिजवी ने कुछ समय पहले एक किताब लिखी थी। जो प्रकाशित होने के साथ ही विवादों में घिर गई थी। इस किताब में उन्होंने ऐसी बाते लिखी हैं जो अभद्र और एतिहासिक तथ्यों के खिलाफ हैं।

इस तरह की किताब लिखकर वसीम रिजवी ने बहुत से लोगों की धार्मिक भावनाएं आहत की हैं। देश में आशांति फैलाने, साम्प्रदायिक दंगे भड़काने का काम किया है। इससे मुस्लिम समुदाय में काफी आक्रोश है।

किताब लिखकर धार्मिक भावना भड़काने का आरोप

मौलाना कल्बे जव्वाद का आरोप है कि किताब के माध्यम से वसीम रिजवी ने इस्लाम धर्म के प्रति गलत संदेश लोगों को दिया है। जिसकी वजह से मुस्लिम समुदाय में खासा रोष है।

उन्होंने आरोपी वसीम रिजवी को गिरफ्तार किए जाने की मांग भी की है। इंस्पेक्टर चौक रत्नेश सिंह के अनुसार कल्बे जव्वाद की तरफ से तहरीर दी गई थी। जिसके बाद सै. वसीम रिजवी के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

वसीम रिजवी के खिलाफ दर्ज है कई मुकदमे

वसीम रिजवी रिजवी के खिलाफ वक्फ बोर्ड की जमीन खरीद-फरोख्त के साथ चालक की पत्नी से बलात्कार और कई विवादित बयानों के मामले में उत्तर प्रदेश के साथ ही अन्य राज्यों में मुकदमे दर्ज हैं।

लखनऊ में धार्मिक टिप्पणी के मामले में सआदतगंज,चौक,बाजारखाला समेत अन्य थानों पर उनके खिलाफ तहरीर दी गई है। जिसकी जांच-पड़ताल की जा रही है।