Master Blaster : मास्टर ब्लास्टर तेंदुलकर ने बताई WTC Final में भारत की हार की वजह

Spread the love

Master Blaster : केन विलियमसन(Kane Williamson) की कप्तानी में न्यूजीलैंड ने भारत को 8 विकेट से हराकर विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का फाइनल जीता. विराट कोहली(Virat Kohli) की अगुवाई में भारत तीसरी बार आईसीसी ट्रॉफी के करीब पहुंचकर उसे जीतने से चूक गया. टीम इंडिया को आखिर क्यों फाइनल गंवाना पड़ा. पूर्व भारतीय कप्तान सचिन तेंदुलकर ने इसका कारण बताया.

नई दिल्ली. दो साल की मेहनत, सबसे ज्यादा 12 टेस्ट जीते. लेकिन सबसे बड़ा मुकाबला ही हार गए. टीम इंडिया के लिए विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का सफर कुछ ऐसा रहा. विराट कोहली एक बार फिर आईसीसी ट्रॉफी जीतने से चूक गए. ऐसा लगातार तीसरी बार हुआ, जब टीम इंडिया विराट की अगुवाई में आईसीसी ट्रॉफी के करीब पहुंचकर हार गई.

पिछली बार भारत 2019 के वनडे वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों ही हारा था. इससे पहले, 2017 में भी विराट की ही कप्तानी में भारत को चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान ने शिकस्त दी थी.

पूर्व भारतीय कप्तान सचिन तेंदुलकर ने बताया कि आखिर न्यूजीलैंड के खिलाफ डब्ल्यूटीसी के फाइनल में टीम इंडिया से कहां चूक हुई.

इसे बे पढ़ें :vaccine camp : MP का खुलासा – मुझे नकली वैक्सीन कैम्प में लगाई गई

फाइनल के बाद सचिन ने ट्वीट किया किया कि विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप 2021 जीतने के लिए न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम को बधाई. आप फाइनल में बेहतर टीम की तरह खेले. टीम इंडिया जरूर अपने प्रदर्शन से निराश होगी.

मैंने पहले ही कहा था कि आखिरी दिन पहले 10 ओवर अहम होंगे. मैच का रुख पहले सेशन से तय हो जाएगा और भारत ने कोहली और पुजारा दोनों के विकेट 10 गेंद के भीतर ही गंवा दिए. इसी कारण से टीम पर दबाव बढ़ गया था.

Master Blaster : दो दिन बारिश में धुले

भारत-न्यूजीलैंड के बीच साउथैम्पटन में खेले गए विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में मौसम सबसे बड़ी बाधा बना. बारिश के कारण पहले और चौथे दिन का खेल ही नहीं हो पाया. इसी वजह से नतीजा तय करने के लिए छठा दिन या रिजर्व डे का इस्तेमाल हुआ. आईसीसी ने पहले ही मौसम के मिजाज को देखते हुए डब्ल्यूटीसी के फाइनल के लिए 23 जून को रिजर्व डे के तौर पर रखा था.

आखिरी दिन टीम इंडिया ने 64 रन पर दो विकेट के स्कोर से आगे खेलना शुरू किया और पूरी टीम 170 रन पर ऑल आउट हो गई. भारत की तरफ से किसी भी बल्लेबाज ने 50 रन का आंकड़ा पार नहीं किया. सबसे ज्यादा 41 रन ऋषभ पंत बनाए.

न्यूजीलैंड ने 2 विकेट खोकर जीत का लक्ष्य हासिल किया

न्यूजीलैंड ने पहली पारी में भारत पर 32 रन की बढ़त हासिल की थी. इसी आधार पर चौथी पारी में जीतने के लिए 139 रन का लक्ष्य मिला, जिसे कीवी टीम ने सिर्फ दो विकेट खोकर ही हासिल कर लिया. न्यूजीलैंड के लिए कप्तान केन विलियमसन ने नाबाद 52 और रॉस टेलर ने 47 रन बनाए. भारत के लिए दोनों विकेट रविचंद्नन अश्विन ने लिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.