पीएम मोदी ने नए संसद भवन की आधारशिला रखी

पीएम मोदी ने नए संसद भवन की नींव बोले- आत्मनिर्भर भारत का गवाह बनेगा नया संसद भवन

अक्टूबर 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य

नई दिल्ली, उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि पुराने संसद भवन ने स्वतंत्रता के बाद के भारत को दिशा दी तो नया भवन आत्मनिर्भर भारत के निर्माण का गवाह बनेगा। पुराने संसद भवन में देश की आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए काम हुआ, तो नए भवन में 21वीं सदी के भारत की आकांक्षाएं पूरी की जाएंगी।इस भवन का निर्माण अक्टूबर 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है ताकि देश की आजादी की 75 वीं वर्षगांठ पर नए भवन में संसद सत्र आयोजित किया जा सके।

माथा टेककर लोकतंत्र के मंदिर को किया नमन

पीएम मोदी ने इस दौरान यह भी कहा, ‘मैं अपने जीवन में वो क्षण कभी नहीं भूल सकता जब 2014 में पहली बार एक सांसद के तौर पर मुझे संसद भवन में आने का अवसर मिला था। तब लोकतंत्र के इस मंदिर में कदम रखने से पहले, मैंने सिर झुकाकर, माथा टेककर लोकतंत्र के इस मंदिर को नमन किया था।’

संसद भवन में कई नई चीजें

पीएम मोदी ने कहा हम भारत के लोग मिलकर अपनी संसद के इस नए भवन को बनाएंगे- पीएम मोदी और इससे सुंदर क्या होगा, इससे पवित्र क्या होगा कि जब भारत अपनी आजादी के 75 वर्ष का पर्व मनाए, तो उस पर्व की साक्षात प्रेरणा, हमारी संसद की नई इमारत बने नए भवन की आधारशिला रखने के बाद सभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि नए संसद भवन में कई नई चीजें की जा रही हैं, जिससे सांसदों की दक्षता बढ़ेगी क्योंकि कार्य संस्कृति आधुनिक तरीकों को शामिल किया जाएगा।

कई गणमान्य लोग मौजूद रहे

इस दौरान गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, लोकसभा के स्पीकर ओम बिड़ला, संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी, आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी और राज्यसभा के उप सभापति हरिवंश नारायण सिंह टाटा ट्रस्ट्स के चेयरमैन रतन टाटा अदि कई गणमान्य लोग मौजूद रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published.