COVID-19 : कोरोना से बुरा हाल, लॉकडाउन की ओर राज्यों के बढ़ रहे कदम

Spread the love

मुम्बई मेंं लॉकडाउन जैसी सख्ती,दिल्ली में साप्ताहिक लॉकडाउन, उत्तर प्रदेश के 10 जनपदों में रात्रि 8 बजे से प्रात: 7 बजे तक कोरोना कफ्र्यू प्रभावी

लखनऊ। कोरोना की दूसरी लहर ने पूरे भारत देश को अपनी चपेट में ले लिया है।

दिल्ली,मुम्बई,उत्तर प्रदेश,मध्य प्रदेश में हालात काफी भयावह है।

हजारों की तादात में लोगों की मरने की खबरें आ रही है।

यहां तक ही मुम्बई मेंं लॉकडाउन जैसी सख्ती तो दिल्ली में साप्ताहिक

लॉकडाउन लगाया गया है।वहीं उत्तर प्रदेश के 10 जनपदों में रात्रि 8 बजे से प्रात: 7 बजे तक कोरोना कफ्र्यू प्रभावी होने का आदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिया है।

वहीं पूरे देश में लॉकडाउन की आशंकाओंं को देखते हुए शहर से अपने गांवों की ओर मजदूरों का पलायन शुरू हो गया है।

रेलवे स्टेशन,बस स्टेशनों में मजदूर भारी तादात में जाने के लिए पहुंच रहे हैं। स्टेशनों पर मजदूरों की भारी तादात के आगे इंतजाम नाकाफी है।

दिल्ली में साप्ताहिक लॉकडाउन

राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों पर लगाम लगाने के लिए

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बृहस्पतिवार को वीकेंड कफ्र्यू लगाने का एलान किया है।

इसके तहत वीकेंड कफ्र्यू शुक्रवार रात 10 बजे से शुरू होगा और यह सोमवार सुबह 5 बजे खत्म होगा।

वीकेंड कफ्र्यू के दौरान काफी सारे प्रतिबंध लागू रहेंगे।

उपराज्यपाल अनिल बैजल के बीच हुई अहम बैठक के बाद वीकेंड कफ्र्यू की घोषणा की गई है।

यहां पर बता दें कि यह वीकेंड कफ्र्यू कब तक रहेगा? इसकी जानकारी अरविंद केजरीवाल ने नहीं दी।

ऐसे में माना जा रहा है कि जब तक दिल्ली में कोरोना के मामले नहीं थमते हैं, वीकेंड कफ्र्यू लागू रहेगा।

उत्तर प्रदेश के 10 जनपदों में 8 बजे से प्रात: 7 बजे तक कफ्र्यू

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण विकराल रूप लेता दिख रहा है।

खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी कोरोना संक्रमित हैं।

गुरुवार को मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेसिंग कर कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण के लिए गठित टीम-11 को दिशा-निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने साफ कहा कि लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर नगर, गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, मेरठ, गोरखपुर सहित 2000 से

अधिक एक्टिव केस वाले सभी 10 जनपदों में रात्रि 8 बजे से प्रात: 7 बजे तक

कोरोना कफ्र्यू प्रभावी किया जाए।

इस आदेश को तत्काल प्रभाव से लागू करें। लोगों को मास्क और सेनेटाइजेशन के महत्व को समझाएं।

15 मई तक 12 वीं तक के स्कूल बंद

सीएम योगी ने कहा कि कोविड संक्रमण से बचाव के दृष्टिगत कक्षा एक से 12वीं तक के विद्यालयों में 15 मई तक पठन-पाठन स्थगित रखा जाए।

इस अवधि में कोई परीक्षा भी न आयोजित हो।

माध्यमिक शिक्षा परिषद की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 20 मई के बाद आयोजित की जाएं।

नई समय-सारिणी के लिए मई के पहले सप्ताह में विचार हो। श्री योगी ने कहा कि पंचायत चुनावों में संलग्न कार्मिकों की सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए जाएं।

कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से अनुपालन हो।

मतदान कर्मियों के लिए मास्क, ग्लब्स, सैनिटाइजेशन आदि की पर्याप्त व्यवस्था की जानी चाहिए।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.