UP STF : अस्पतालों में सप्लाई के नाम पर ऑक्सीजन की कालाबाजारी करने वाले दो गिरफ्तार

Spread the love

-एसटीएफ ने आरोपियों को जानकीपुरम थाना क्षेत्र से दबोचा
-भारी मात्रा में ऑक्सीजन सिलेंडर,एक वाहन व कूटरचित दस्तावेज बरामद

लखनऊ। UP STF : कोरोना संक्रमण में लाइफ  सपोर्ट के लिए आवश्यक ऑक्सीजन सिलेंडरों की कालाबाजारी करने वाले दो लोगों को एसटीएफ ने जानकीपुरम थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया है।

आरोपियों के पास से भारी मात्रा में सिलेंडर,टाटा ऐस वाहन व नकदी बरामद हुई है। गिरफ्तार आरोपी अस्पताल के कूटरचित मांग पत्र के माध्यम से सिलेंडरों को प्लांट से रिफिल कर जरूरतमंदों से मनमाने दाम वसूलते थे।

एसटीएफ के एडीजी अमिताभ यश के मुताबिक मुखबिर की सूचना पर जानकीपुरम थाना क्षेत्र स्थित 6० फिटा रोड से सिलेंडर की कालाबाजारी करते समय दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार आरोपियों ने अपना नाम विनय यादव व रवी यादव निवासी जानकीपुरम बताया है।

आरोपियों के कब्जे से 4० ऑक्सीजन सिलेंडर (37 जम्बो व 3 वी टाइप),दो मोबाइल,दो कूटरचित दस्तावेज व परिवहन में प्रयुक्त एक टाटा ऐस वाहन व आठ सौ रुपये की नकदी बरामद हुई है। पूछताछ में आरोपी विनय यादव ने बताया कि वर्ष 2०15 से मेडिकल गैस एजेन्सी का लाइसेन्स है। लखनऊ के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन गैस की सप्लाई करता है। जिस कारण अस्पताल के स्टाफ  के साथ सम्बन्ध अच्छे है।

अस्पताल कर्मियों की मदद से वह लोगों को ऊंचे दामों पर ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराता है। एसटीएफ  ने बताया कि आगे की कार्रवाई जानकीपुरम पुलिस द्वारा की जा रही है। साथ ही मामले में अस्पताल कर्मियों व गिरोह में शामिल अन्य संदिग्धों की कुंडली खंगाली जा रही है।

कूटरचित दस्तावेज से रिफिल करवाते थे सिलेंडर

आरोपी विनय यादव ने बताया कि विभिन्न अस्पतालों के लेटर पैड का प्रयोग कर फर्जी मांग पत्र बनवाकर ऑक्सीजन प्लान्ट से सिलेंडर रिफिल करा लेता है। इसके बाद अस्पताल कर्मियों की मदद से जरूरतमंदों को महंगे दाम पर सिलेंडर बेचते थे।

आरोपी ने बताया कि बुधवार को 3० सिलेंडरों का मांग पत्र मेडिसिन हॉस्पिटल के नाम से बनवाकर जय सांई गैस रिफिलिंग सेन्टर बाराबंकी से 24 गैस सिलेंडर रिफिल कराकर लाये थे। कुछ सिलेंडर पहले से ही बुक किए गये लोगों को दे दिया।

बाकी बचे सिलेंडर घर पर छिपाकर रख रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.