Lucknow Crime : 1090 चौराहे पर कार बाइक सवार को रौंदते हुए रेलिंग से टकराई,तीन की मौत

Spread the love

 Lucknow Crime : हादसे में घायल एक युवक की हालत नाजुक

लखनऊ। गौतमपल्ली थाना क्षेत्र स्थित 1090 चौराहे पर गुरुवार दोपहर तेज रफ्तार कार ने बाइक सवार युवक को रौंदते हुए रेलिंग से जा टकराई। हादसे में बाइक सवार की मौके पर ही मौत हो गई।

वहीं कार में फंसे तीन लोगों को करीब दो घंटे बाद निकाल अस्पताल पहुंचाया गया जहां चिकित्सकों ने दो लोगों को इलाज के दौरान मृत घोषित कर दिया। कार सवार एक अन्य युवक की हालत नाजुक बतायी जा रही है।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक गुरुवार दोपहर करीब 12:30 बजे गोमती नगर की ओर से आ रही कार अचानक अनियंत्रित हो गई। तेज आवाज के साथ कार चौराहे की दूसरी तरफ भागी, जहां एक बाइक पर बैठे युवक को रौंदते हुए चौराहे की रेलिंग से जा भिड़ी।

इससे कार का अगला हिस्सा पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। कार में तीन लोग सवार थे। गाड़ी चला रहा युवक स्टेयरिंग और सीट के बीच बुरी तरह फंस गया था।

स्थानीय लोगों की मदद से पुलिस ने हथियार और कुछ दूरी पर काम कर रहे मजदूरों के उपकरणों से गाड़ी का कुछ हिस्सा तोड़ कर लहूलुहान ड्राइवर को बाहर निकाल उसे अस्पताल भेजा गया। कार चालक आजमगढ़ निवासी 30 वर्षीय रामनिवास और कार में सवार 25 वर्षीय बस्ती निवासी मनीष दुबे की इलाज के दौरान मौत हो गई।

जबकि कार में सवार 25 वर्षीय अरुण पांडे का इलाज चल रहा है। वहीं बाइक सवार मृतक की पहचान कन्नौज निवासी 35 वर्षीय बरीद आलम के रूप में हुई है। बरीद आलम बूथ लेवल ऑफिसर थे। गुरुवार दोपहर वह 1090 चौराहे के पास बाइक खड़ी कर दोस्त का इंतजार कर रहे थे।

 Lucknow Crime : फायर कर्मियों ने कार में फंसे लोगों को निकाला

एसीपी हजरतगंज अखिलेश सिंह के अनुसार कार पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई थी। डिवाइडर की टक्कर से दरवाजे भी जाम थे। ऐसे में घायलों को निकालने के लिए कुदाल की मदद ली गई,

लेकिन सफलता नहीं मिली। हजरतगंज इंस्पेक्टर श्याम बाबू शुक्ला ने गैस कटर मंगवा कर कार के दरवाजे काटने का प्रयास किया। मगर सारे प्रयास विफल होने पर सीएफओ विजय सिंह को फोन कर अग्निशमन दल बुलाया गया।

फायर कर्मियों ने बड़े कटर से गेट काटकर कार में फंसे ड्राइवर रामनिवास, मनीष दुबे और अरुण पाण्डेय को बाहर निकाला।

Lucknow Crime : घूमने के लिए निकला था बाइक सवार

मुख्यमंत्री आवास से एक किलो मीटर के दायरे में हुए इस भीषण हादसे को जिसने भी देखा वह सिहर कर रह गया है। तेज रफ्तार से आ रही कार की टक्कर इतनी भीषण थी कि कार के परखचे उड़ गए।

हालांकि जिस स्थान पर यह दिल दहलाने वाला हादसा हुआ है। उस स्थान पर सड़क की चौड़ाई पर्याप्त है और यहां अक्सर लोग घूमने टहलने के लिए आते हैं। वहीं सड़क के किनारे अपनी मोटर साइकिल खड़ी करके बैठे रहते हैं।

हादसे में मारे गए बरीद आलम के साथ भी यही हुआ वह भी 1090 चौराहे पर सड़क के किनारे मोटर साइकिल खड़ी करके बैठा हुआ था।

गौतमपल्ली इंस्पेक्टर ने बताया कि हादसे में मारे गए तीन लोगों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

Lucknow Crime : टक्कर मार कर भागे थे कार सवार

पुलिस के अनुसार राम निवास, मनीष दुबे और अरुण पाण्डेय पुनीत मोटर्स से जुड़े थे। गुरुवार सुबह वे कार लेकर एक ग्राहक के पास जा रहे थे।

समता मूलक चौराहे के पास चालक राम निवास ने एक बाइक सवार को टक्कर मार दी थी। हादसे के बाद भागने की कोशिश में राम निवास रफ्तार बढ़ाता गया और 1090 चौराहे के पास पहुंचने पर घुमावदार मोड़ के चलते कार नियंत्रण से बाहर होकर बाइक सवार को रौंदते हुए डिवाइडर से जा टकराई।