राजधानी में बेख़ौफ़ हुए बदमाश, विभूति खंड क्षेत्र में ताबड़तोड़ फायरिंग ,1 की मौत 2 घायल

लखनऊ। राजधानी में 24 घण्टे के भीतर ताबड़तोड़ वारदातों ने हड़कम्प मचा दिया। ठाकुरगंज थाना में हत्या का मामला शांत नही हुआ था कि विभूतिखण्ड थाना क्षेत्र के कठौता इलाके में  हुई ताबड़तोड़ फायरिंग में एक युवक की मौत हो गई जबकि उसका साथी समेत राहगीर भी घायल हो गया। खुलेआम फायरिंग के दौरान तीन युवकों को गोली लगने की सूचना से पुलिस महकमे में हड़कम्प मच गया। क्षेत्रीय पुलिस सहित आला-अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए। एक युवक ने मौके पर ही दम तोड़ दिया जबकि अन्य दो को गम्भीर हालत में लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। सूचना मिलने पर पुलिस कमिशनर डीके ठाकुर भी लोहिया अस्पताल पहुंच गए। आरोपियों की धरपकड़ के लिए नाकाबंदी कर दी गई ।पुलिस हत्यारों की तलाश में जुटी है।

मामला विभूतिखण्ड थाना क्षेत्र के कठौता झील का है। शाम करीब साढ़े आठ बजे इलाका गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा। डीसीपी संजीव सुमन ने बताया कि तीन अज्ञात बदमाशों ने अजीत सिंह और उसके साथी मोहर सिंह पर हमला बोल दिया। इस दौरान अजीत सिंह और उसके साथी मोहर सिंह ने भी बदमाशो पर फायरिंग की। इस दौरान अजीत सिंह की गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई। जबकि उसका साथी मोहर सिंह घायल हो गया। फायरिंग की घटना के दौरान राहगीर आकाश के पैर में गोली लग गई। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने सभी को लोहिया अस्पताल पहुंचाया।

कमिशनर डीके ठाकुर ने बताया कि अजीत सिंह मूल रूप से मऊ का रहने वाला था। अजीत सिंह पर 18 से अधिक मुकदमे दर्ज है जिसमें 5 मुकदमे हत्या के हैं। अजीत सिंह को 31 दिसम्बर को जिला मजिस्ट्रेट के आदेश पर जिलाबदर किया गया था,जिसके बाद से वह राजधानी में रह रहा था। डीके ठाकुर ने बताया अन्य जानकारी के लिए मऊ क्षेत्र से जानकारी जुटाई जा रही है,जिसके बाद ही गैंगवार के कारणों का पता लग सकेगा।

One thought on “राजधानी में बेख़ौफ़ हुए बदमाश, विभूति खंड क्षेत्र में ताबड़तोड़ फायरिंग ,1 की मौत 2 घायल

Leave a Reply

Your email address will not be published.