जिलाधिकारी की अध्यक्षता में हुआ तहसील संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन

उन्नाव। जन सामान्य की शिकायतों एवं समस्याओं का त्वरित गति के साथ गुणवत्तापूर्ण निस्तारण हो। जनमानस को अपनी शिकायतों की लेकर किसी तरह की परेशानी न हो इस उद्देश्य से उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा माह के प्रथम एवं तीसरे मंगलवार को सभी तहसीलों में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजन किया जाता है।इस परिप्रेक्ष्य में आज जनपद उन्नाव की समस्त तहसीलों में तहसील संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन चल रहा है। जिलाधिकारी श्री रवीन्द्र कुमार के द्वारा उन्नाव के बीघापुर तहसील में तहसील संपूर्ण समाधान दिवस की अध्यक्षता की गई। अध्यक्षता करते हुए उन्होंने कहा कि जनता की समस्याओं एवं शिकायतों का समाधान गुणवत्तापूर्वक किया जाय।उन्होंने कहा कि आज पुलिस और राजस्व की बहुत सारी शिकायतें लंबित पाईं गईं हैं, जो चिंताजनक है, इस लंबे प्रकरणों को आगामी अगले थाना दिवस तक पूरी तरह निस्तारण किया जाना चाहिए। अगर कोई शिकायत हमारे पास या अगले तहसील दिवस में आती है तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।उन्होंने कहा कि शिकायतों का वास्तविक निस्तारण करें ताकि शिकायतकर्ता को इस तहसील दिवस का लाभ मिल सके। पंचायत चुनाव आने वाले हैं अगर इसी तरह शिकायतें लंबित रहीं तो आगे कार्य करने में दिक्कत होगी। उन्होंने कहा कि दूसरी शिकायत सबसे ज्यादा बिजली विभाग की है, अन्य तहसील दिवस की अपेक्षा में इस तहसील में बिजली की बहुत सारी शिकायतें आई हैं जो ज्यादातर जर्जर कार्य की शिकायत है, बिजली का काम कहीं भी जर्जर स्थिति में पाया गया तो लापरवाही कत्ई बर्दाश्त नहीं की जाएगी।बाकी जितनी भी शिकायतें विकास आदि की आई हैं उनका भी गुणवत्ता पूर्वक निस्तारण किया जाएं। मंगलवार तहसील दिवस में कुल मिलाकर 174 शिकायतें आयी, जिसमें से मौके पर 15 शिकायतों का निस्तारण जिलाधिकारी के द्वारा मौके पर ही समस्याओं का निस्तारण संबंधित विभागीय अधिकारियों के माध्यम से कराया गया। जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि शिकायतकर्ता द्वारा जो शिकायत की गई हैं उसका निस्तारण संबंधित अधिकारी मौके पर पहुंचकर गुणवत्ता पूर्ण करें। उन्होंने कहा यदि शिकायतों के निस्तारण से शिकायतकर्ता असंतुष्ट रहते हैं तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।सभी अधिकारी अपने कार्य को पूरीलग्न व तत्परता, गुणवत्ता के साथ समय अवधि के साथ-साथ पूर्ण करें, जिससे कि शिकायतकर्ताओं को तहसील दिवस में अनावश्यक रूप से न आना पड़े, शिकायतकर्ता की शिकायत का समाधान मौके पर ही हो जाना चाहिए। जिलाधिकारी ने कहा जनपद का प्रत्येक व्यक्ति हमारे लिए महत्वपूर्ण है उसकी समस्या का समाधान करना हमारा दायित्व कर्तव्य दोनों है, इसलिए सभी अधिकारी अपनी कार्य शैली में परिवर्तन लाएं और कार्य को गुणवत्ता पूर्ण करें।जिलाधिकारी ने कहा कोविड-19 वैश्विक महामारी के दौरान सभी आम जनमानस मास्क लगा कर घर से बाहर निकलें अनावश्यक रूप से घर से बाहर न निकलें, मास्क लगाएं और 2 गज की दूरी का अनुपालन अवश्य करें। कोविड-19 के नियमों का अनुपालन अवश्य कराएं, तहसील दिवस के अवसर पर पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी, उप जिलाधिकारी (बीघापुर) दयाशंकर पाठक, क्षेत्राधिकारी बीघा पुर सहित समस्त जिला स्तरीय अधिकारी गण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.