वैलेंटाइन डे को लेकर अखिल भारत हिंदू महासभा की प्रेमी युगलों की चेतावनी, पार्कों में अश्लीलता नहीं करेंगे बर्दाश्त

प्रेमी-प्रेमिकाओं (Sweethearts) के त्योहार वैलेंटाइन डे (Valentines Day) के एक दिन पहले अखिल भारत हिन्दू महासभा ने दी चेतावनी दी है. महासभा का कहना है कि पार्कों (Parks) में अश्लीलता (Obscenity) बर्दाशत किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

प्रेमी-प्रेमिकाओं (Sweethearts)  वैलेंटाइन डे (Valentine’s Day) को लेकर अखिल भारत हिन्दू महासभा (All India Hindu Mahasabha) ने चेतावनी दी है.

महासभा ने प्रेमी युगलों को दी है कि पार्कों में अश्लीलता (Obscenity) किसी भी कीमत पर बर्दाशत नहीं की जाएगी. हिन्दू महासभा कल पार्कों में प्रेमी युगलों को अश्लीलता नहीं परोसने देंगी.

इसके लिए महासभा के कार्यकर्ताओं ने डंडो को तेल पिलाया है

अखिल भारत हिन्दू महासभा

अखिल भारत हिन्दू महासभा ने कहा कि 14 फरवरी को Valentine’s Day वैलेंटाइन डे मनाने के नाम पर जो लोग पार्कों और सार्वजनिक स्थलों में अश्लीलता फैलाते हैं,

इस बार Valentine’s Day वैलेंटाइन डे मनाने की जगह पिता दिवस और शहीद दिवस मनाएं. कार्यकर्ताओं ने डंडे को सरसों का तेल पिलाया है.

प्रेमी युगलों को पूरे साल फरवरी महीने का इंतजार रहता है. इस महीने में युवक-युवती एक दूसरे से अपने दिल की बात कहते हैं.

वैलेंटाइन वीक में प्रेमी युगल पहले रोज डे, प्रपोज डे, चॉकलेट डे, हग डे फिर 14 फरवरी को Valentine’s Day वैलेंटाइन डे मनाते हैं.

लेकिन इस बार राजधानी लखनऊ में युवक-युवतियों की प्लानिंग पर पानी फिर सकता है, क्योंकि इस वर्ष अखिल भारतीय हिन्दू महासभा Valentine’s Day वेलेंटाइन डे का विरोध करेगी

अखिल भारत हिन्दू महासभा

अखिल भारत हिन्दू महासभा ने इस वर्ष फरमान जारी करके कहा कि 14 फरवरी को Valentine’s Day वैलेंटाइन डे मनाने वालों को सबक सिखाएंगे.

इसके लिए हिंदू महासभा ने आज एक बैठक की हैं, जिसमें कल 14 फरवरी की रणनीति तय की गई है. मीटिंग में कहा गया है कि 14 फरवरी को Valentine’s Day वैलेंटाइन डे मनाने के नाम पर जो लोग अश्लीलता परोसते हैं,

वो इस बार Valentine’s Day वैलेंटाइन डे मनाने की जगह पिता दिवस और शहीद दिवस मनाएं

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शिशिर चतुर्वेदी ने बताया कि अगर प्रेमी युगलों को सड़कों, पार्कों और सार्वजनिक स्थलों पर अश्लीलता फैलाते हुए पाया गया तो हमने डंडों को काफी तेल पिलाया है. पहले सब कार्य कानून के दायरे में होंगे अगर नहीं माने तो फिर इनका सहारा लिया जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published.