20 जनवरी को अमेरिका में ट्राम राज का होगा अंत

Spread the love

वाशिंगटन. अमेरिकी में हुवे चुनाव में हार के बाद डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने एक बयान जारी कर काफी समय बाद अपनी हार को स्वीकार कर लिया है. ट्रंप ने बयान जारी कर कहा कि ये उनके एतिहासिक और पहले राष्ट्रपति कार्यकाल का अंत है. मैं चुनाव के इन नतीजों से पूरी तरह असहमत हूं लेकिन 20 जनवरी को सत्ता का हस्तांतरण सही तरीके से हो जाएगा.

CNN के मुताबिक ट्रंप ने जारी बयान में कहा

मैंने हमेशा से कहा था कि मैं हमेशा लीगल वोटिंग के प्रति लड़ाई को जारी रखूंगा और चुनावों में पारदर्शिता तय करेंगे. ये मेरे पहले और एतिहासिक राष्ट्रपति कार्यकाल का अंत है. ये अमेरिका को फिर से महान बनाने की हमारी लड़ाई की सिर्फ शुरुआत है. ट्रंप ने इस बयान में भी फिर चुनावों की धांधली से जुड़े अपने आरोप दोहराए.

इससे पहले ट्रंप समर्थकों ने कैपिटल हिल बिल्डिंग में घुसकर इलेक्टोरल वोटों की काउंटिंग रोकने की हिंसक कोशिश की थी जिसमें अभी तक 4 लोग मारे जा चुके हैं.

अमेरिकी कांग्रेस ने डेमोक्रेट उम्मीदवार जो बाइडन की जीत पर संवैधानिक मुहर लगा दी है. कांग्रेस ने काउंटिंग में बाइडन को विजेता घोषित किया है. बाइडन के अलावा कमला हैरिस को भी उपराष्ट्रपति पद के लिए विजेता घोषित किया गया है. इससे पहले सीनेट और कांग्रेस ने जॉर्जिया, पेन्सिल्वेनिया, नेवाडा और एरिजोना से जुड़े रिपब्लिकन नेताओं के काउंटिंग रोकने से सम्बंधित प्रस्तावों को बारी-बारी से खारिज कर दिया.

हिंसा में मारी गयी महिला पहले एयरफ़ोर्स में थी कार्यरत

यूएस कैपिटल में हुई हिंसा के दौरान मारी गईं महिला की स्थानीय पुलिस ने पहचान कर ली है. बताया गया है कि मृतका का नाम एशली बैबिट था जो सैन डिएगो की रहने वाली थीं. अमेरिकी मीडिया के अनुसार, एशली यूएस एयर फ़ोर्स में भी रह चुकी थीं. रिपोर्ट्स के मुताबिक़, कैपिटल बिल्डिंग में घुसते समय एशली को गोली लगी.

वे अन्य दंगाइयों के साथ थीं. अमेरिकी प्रसारक फ़ॉक्स न्यूज़ ने एशली की सास से बात करने का दावा किया है. उनके अनुसार, वे पक्की ट्रंप समर्थक थीं. गोली लगने के बाद एशली को अस्पताल ले जाने की कोशिश की गई थी, लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत हो गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published.