Nisantan masiha :निसंतान दंपत्ति के लिए मसीहा बनी डॉक्टर रुखसाना

Spread the love

Nisantan masiha : डॉक्टर रुखसाना की काबिलियत के चलते 5 साल बाद मिली परिवार को खुशी ।

लखनऊ राजधानी अश्रफाबाद में स्थित डॉक्टर रुखसाना अपने हुनर और काबिलियत के चलते ,

जानी और पहचानी जाती हैं।

एक तरफ उनका डाक्टरी पेशा तो दूसरी तरफ समाज सेवा की ललक ।

दोनों चीजें कभी एक दूसरे के आड़े नहीं आतीं जहाँ व चिकत्सक हैं

वहीं एक बेहेतरीन समाज सेवक भी, ऐसे बहुत से मामले हैं ।

जो डाक्टर रुख्साना की शख्सियत में निखार पैदा कर देते हैं।

इस लिंक को टच करें और इसे भी पढ़ें: Oxygen Crisis in UP: ऑक्सीजन का आपातकाल, राजधानी समेत अन्य महानगरों में सांसों पर गहरा संकट

अभी हाल का ही मामला देखें अपनी क़ाबलियत के चलते एक परिवार को 5 साल के बाद खुशियों के तोह्फे से नवाज़ा ।

समाज सेवा के तहत गरीबों की मदद भी खुल कर करती है, जिस से क्षेत्र में लोग उनको गरीबों का मसीहा भी कहते हैं ।

डाक्टर रुख्साना अपने फ़र्ज़ से कभी मुंह नहीं मोड़तीं वो बेहतर से बेहतर इलाज करने की कोशिश करती हैं ।

और उनका मरीज अच्छे से सही एवं स्वस्थ हो कर अपने घर चला जाएं यही उनकी की कोशिश रहती है।

शहर की घनी आबादी के बीचो बीच बने हॉस्पिटल रुखसाना मेडिकल ऐंड ट्रामा सेंटर ।

जो कि विक्टोरियागंज नखास के पास स्थित है।

Nisantan masiha : कम वक्त में बहुत बड़ा नाम कमाने वाली शहर की एक पहली महिला डाक्टर

डॉक्टर रुखसाना की बात करें तो बहुत कम वक्त में बहुत बड़ा ,

नाम कमाने वाली शहर की एक पहली महिला डाक्टर हैं।

जिन्होंने कम वक्त में लोगों का दिल जीत है, और लोग इन्हें बहुत पसंद करते हैं।

जबकि डाक्टरों के बारे में आम आदमी की राय एक दम विपरीत होती है ।

वहीं डाक्टर रुखसाना को स्थानीय लोग भगवान और मुस्लिम फरिश्ता मानते हैं।

आपको बता दें कि डॉक्टर रुखसाना के हॉस्पिटल में एक बच्चे की डिलीवरी हुई ।

बच्चे के पिता ने बताया कि हमारे चार बच्चे दूसरे डॉक्टर की लापरवाही से खराब हो गए ।

तथा बच्चों को वेंटीलेटर पर रखने के बाद भी जिंदगी नहीं बचाई जा सकी।

पिता ने जब यह मामला डॉक्टर रुखसाना को बताया उन्होंने आश्वस्त करते हुए कहा ,

इस बार इंशा अल्लाह सब कुछ ठीक होगा आपकोपरेशान होने की ज़रूरत नहीं।

यह सुनते ही पिता के चेहरे पर खुशी की लहर दौड़ गई ,

जो पहले से ही अपनी पत्नी का इलाज डॉक्टर रुखसाना से करवा रहे थे ।

Nisantan masiha : डॉक्टर रुखसाना
Nisantan masiha : डॉक्टर रुखसाना

जब डिलीवरी वाले दिन डॉक्टर ने बताया तुम्हारे पत्नी को चांद सा बेटा हुआ है।

तो मानो जैसे पिता की खुशी का ठिकाना ही ना रहा ।

पिता ने दोबारा पूछा कि सब सही है, डॉक्टर ने मुस्कुराते हुए कहा दोनों सही है, और चांद सा बेटा मुबारक हो।

जिसमें मोहम्मद फैज़ वे डॉक्टर रुखसाना की पूरी टीम का सहयोग है ।

इसी सहयोग की वजह से आज हमारे परिवार को भी खुशी का मौका प्राप्त हुआ है।

परिवार ने डॉक्टर की पूरी टीम एवं विशेष तौर से डॉक्टर रुखसाना का दिल से शुक्रिया अदा किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.