COVID-19 Vaccine in Lucknow: लखनऊ पहुंची कोविशील्ड वैक्सीन UP के 850 केंद्रों पर होना है वैक्सीनेशन

Covishield Vaccine Reached In Lucknow

उत्तर प्रदेश के स्वास्थ मंत्री जय प्रताप सिंह ने लखनऊ के चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट अमौसी पर पुणे से विशेष विमान से लाई गई 11 लाख कोविशील्ड वैक्सीन को रिसीव किया। उत्तर प्रदेश में कुल 18 वैक्सीन स्टोर बनाए गए हैं।

COVID-19 vaccine Reached in Lucknow:

कोरोना वायरस संक्रमण को बेअसर करने की तैयारी अंतिम चरण में है। पुणे में तैयार कोविशील्ड वैक्सीन 16 जनवरी को देशभर में लगाई जाएगी। इसकी खेप लखनऊ भी पहुंची है।

जिस विमान से पुणे से वैक्सीन को लाया गया, उसको कार्गो एरिया में खड़ा किया गया। जहां सीआइएसएफ ने उसको सुरक्षा घेरे में लिया। इसके बाद एयरपोर्ट पर वैक्सीन को विशेष वाहन लोड किया गया।  लखनऊ एयरपोर्ट से कोरोना वैक्सीन को कंटेनर में लोड कर आगे रवाना किया गया। एयरपोर्ट पर स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने वैक्सीन को रिसीव किया। इसके बाद लोड कंटेनर को झंडी दिखाकर रवाना किया। कोरोना वैक्सीन पुणे से लखनऊ पहुंची है। उत्तर प्रदेश के स्वास्थ मंत्री जय प्रताप सिंह ने लखनऊ के चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट, अमौसी पर पुणे से विशेष विमान से लाई गई 11 लाख कोविशील्ड वैक्सीन को रिसीव किया।

यूपी को भेजी गई कोरोना वैक्सीन की पहली खेप आज लखनऊ पहुंच गई। राजधानी में चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट पर स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने पुणे से आई इस वैक्सीन को रिसीव किया। अभी 1.60 लाख टीके भेजे गए हैं। यह लखनऊ मंडल के लिए वैक्सीन भेजी गई है। कड़ी सुरक्षा के बीच इसे भंडारण के लिए भेजा गया है। अब यह जिलों में भेजी जाएगी। 16 जनवरी से टीका लगाया जाएगा। पहले चरण में 9 लाख स्वस्थ कर्मियों को वैक्सीन लगेगी। कल फिर दूसरी खेप मिलने की उम्मीद है।

एयरपोर्ट पर स्वास्थ्य विभाग की कई टीमें मौजूद

लखनऊ एयरपोर्ट पर मंगलवार को पहली खेप में एक लाख 60 हजार वैक्सीन पहुंची हैं। इसको उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने रिसीव किया। उनकी अगुवाई में लखनऊ एयरपोर्ट पर स्वास्थ्य विभाग की कई टीमें भी मौजूद थीं। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में बड़ी संख्या में कोरोना वैक्सीन की आमद सुखद पल है। इसको लेकर हमारी तैयारी पूरी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 जनवरी को कोरोना टीकाकरण से पहले लखनऊ में केजीएमयू समेत 16 अस्पतालों से संवाद करेगें। इस दौरान वह केजीएमयू के कुछ विशेषज्ञों से भी बात कर सकते हैं। टीकाकरण के दौरान सभी स्वास्थ्य केंद्रों की लाइव फीड से मॉनिटरिंग की जाएगी। शासन की तरफ से कहा गया है कि 15 जनवरी तक सभी तैयारियां पूरी कर ली जाएं। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से 61 सेंटरों पर 244 बेड आरक्षित कर लिए गए हैं।

क्या आपको पता है (Hand Sanitizer) हैंड सेनीटाइजर आपको (Coronavirus) कोरोना से बचाने की जगह आपको एक दूसरी बीमारी दे रहा है

लखनऊ में कोविशील्ड वैक्सीन को विशेष सुरक्षा तथा कोल्ड चेन में रखा जाएगा। एयरपोर्ट से लखनऊ में कोरोना वैक्सीन को सीधा स्टेट वैक्सीन सेंटर, जगत नारायण रोड में लाया जाएगा। इसके बाद कड़ी सुरक्षा में स्टेट वेयर हाउस, ऐशबाग भेजा जाएगा। लखनऊ में पुणे से 704 लीटर वैक्सीन लाई गई है। इनको रखने के लिए उत्तर प्रदेश में कुल 18 वैक्सीन स्टोर बनाए गए हैं।

वैक्सीनेशन के लिए पूरी तरह से तैयार

उत्तर प्रदेश को सर्वाधिक 11 लाख कोविशील्ड वैक्सीन मिली हैं। पहले तीन लाख कोरोना वॉरियर्स को यह वैक्सीन लगाई जाएगी। प्रदेश के 850 केंद्रों पर 16 को वैक्सीनेशन का काम होगा। स्वास्थ मंत्री जय प्रताप सिंह ने कहा कि देश में सर्वाधिक कोविशील्ड वैक्सीन उत्तर प्रदेश को मिली है। प्रदेश को 11 लाख कोविशील्ड वैक्सीन मिली है। शनिवार को पहले प्रदेश के तीन लाख स्वास्थकर्मियों को वैक्सीन लगाई जाएगी। उन्होंने कहा कि हम लोग वैक्सीनेशन के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। देश में सर्वाधिक तीन बार उत्तर प्रदेश में वैक्सीनेशन के लिए रिहर्सल किया गया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हर जिले में जिलाधिकारी तथा मुख्य चिकित्साधिकारी के बीच वैक्सीनेशन को लेकर बेहतर तालमेल का निर्देश दिया है। सभी जिलों में कोल्ड चेन बरकरार रखने के साथ जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग में अच्छा समन्वय रखने को कहा गया है। जिलों में इनको स्टोर करने के लिए एक केंद्र बनाया गया है। इसके बाद इनको सीएचसी में भेजा जाएगा। लखनऊ से वैक्सीन को प्रदेश के सभी मंडलों में भेजा जाएगा। मंडलों से वैक्सीन को जिला कोविड सेंटर्स पर भेजा जाएगा। जिन सेंटर्स पर वैक्सीन लगनी है वहां उसी दिन पहुंचाई जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.