फर्जी शिक्षक गिरफ्तार , 10 साल से कर रहा था नौकरी

Spread the love

एसटीएफ ने आरोपी शिक्षक को श्रावस्ती से दबोचा

लखनऊ। दूसरे व्यक्ति के शैक्षिक दस्तावेजों के आधार पर जनपद श्रावस्ती में नौकरी करने वाले फर्जी शिक्षक को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी के कब्जे से कूटरचित दस्तावेज व अन्य सामग्री बरामद हुई है।

बस्ती से गिरफ्तार

एसटीएफ  के आईजी अमिताभ यश के मुताबिक दूसरे की शैक्षिक प्रमाण पत्र के आधार पर नौकरी करने वाले आरोपी शिक्षक को बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय जनपद श्रावस्ती से गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार आरोपी ने पूछताछ में अपना नाम राम सजन वर्मा कप्तानगंज जनपद बस्ती बताया है।

आरोपी के कब्जे से कूटरचित दस्तावेज व 2120 रुपये की नकदी बरामद हुई है। पूछताछ में आरोपी सुनील कुमार प्रधानाध्याक परसोहना ब्लाक सिरसिया जनपद श्रावस्ती ने बताया कि उसका असली राम सजन वर्मा है। आरोपी ने बताया कि जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान श्रावस्ती मेें नियुक्त जेपी श्रीवास्तव ने सुनील कुमार के नाम के शैक्षिक दस्तावेज उपलब्ध कराये थे।

सरकारी सेवा में नहीं

जिनकी मुत्यु हो चुकी है। वर्ष 2010 में जनपद श्रावस्ती से आवेदन किया था। जिसके उपरान्त वर्ष 2011 मेें प्रा.विद्यालय शंकर नगर सिरसिया मेें नियुक्त हुआ था। एसटीएफ की मानें तो उक्त प्रमाण पत्र का असली नाम वाला व्यक्ति किसी भी सरकारी सेवा में नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.