“सावधान” कहीं आप तो नहीं हो रहे शिकार, “हाईसिक्योरिटी” नम्बर प्लेट की फर्जी वेबसाइट बनाकर हो रही ठगी

Spread the love

हाईसिक्योरिटी नम्बर प्लेट की फर्जी वेबसाइट बनाकर ठगी
 -सरोजनीनगर कोतवाली में केस दर्ज
-फर्जी वेबसाइट बना कर नम्बर प्लेट देने के नाम पर वसूल रहे रुपये

लखनऊ। हाईसिक्योरिटी नंबर प्लेट बनाने की फर्जी वेबसाइट बनाकर लोगों से ठगी का मामला सामने आया है। सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी की तरफ  से सरोजनीनगर कोतवाली में इस संबंध में मुकदमा दर्ज कराया गया है।

कुशीनगर हनुमानगंज निवासी राहुल ने हाईसिक्योरिटी नम्बर प्लेट बनवाने के लिए इंटरनेट पर सर्च किया था। जहां उन्हें  एक वेबसाइट नजर आई। जिसमें नम्बर प्लेट के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन किए जाने का विकल्प था। राहुल ने वेबसाइट पर मांगी गई जानकारी दी।

जिसमें राहुल ने नाम, मोबाइल नम्बर, पता, ईमेल आईडी के साथ ही वाहन रजिस्ट्रेशन नम्बर, चेसिस और इंजन नम्बर की डिटेल भरी थी। इसके बाद ऑनलाइन ट्रांजेक्शन का विकल्प दिया गया था। हाईसिक्योरिटी नम्बर प्लेट की फीस के तौर पर 475 रुपये राहुल ने जमा किए थे।

न्यूज24ऑन

सारी डिटेल भरने के बाद उन्होंने फार्म जमा कर दिया था, लेकिन उनके पते पर नम्बर प्लेट नहीं पहुंची। कई दिन गुजरने के बाद भी वेबसाइट की तरफ  से कोई जवाब नहीं आया। जिसके बाद राहुल ने ऑल इण्डिया मोटर व्हीकल सिक्योरिटी एसोसिएशन में शिकायती पत्र भेजा था।

जिसकी जांच कराए जाने पर वेबसाइट बना कर धोखाधड़ी किए जाने का पता चला। गौरतलब हो कि हाईसिक्योरिटी नम्बर प्लेट के लिए परिवहन विभाग ने ऑल इण्डिया मोटर व्हीकल सिक्योरिटी एसोसिएशन को सियाम  को अधिकृत किया है। नम्बर प्लेट हासिल करने के लिए इस वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन कराने के बाद शुल्क जमा करना होता है।

इसके बाद वाहन मालिक के पते पर हाईसिक्योरिटी नम्बर प्लेट पहुंचाई जाती है। इंस्पेक्टर सरोजनीनगर के मुताबिक सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी प्रशासन अखिलेश कुमार द्विवेदी की तहरीर पर अमानत में खयानत और धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है। साइबर सेल की मदद से जांच की जा रही है।